मायावती के घर का बिजली कनेक्शन काटा गया? अधिकारी बोले- पेमेंट हो गया


बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की अध्यक्ष मायावती के ग्रेटर नोएडा (बादलपुर) में भाई आनंद कुमार के घर की बिजली विद्युत विभाग ने काटने की पूरी तैयारी थी. बाकायदा लाइनमैन ने विद्युत बाधित करने की तैयारी भी कर ली थी लेकिन बिजली कनेक्शन बाधित करने के ऐन पहले ही इसका ऑनलाइन पेमेंट किया गया और फिर बिजली को बहाल रहने दिया गया.

हालांकि अनौपचारिक तौर पर चर्चा यह है कि लाइनमैन ने मायावती के भाई आनंद कुमार के घर की बिजली काट दी थी. जिसका वीडियो भी उसने अपने विभाग को भेजा था लेकिन मामले के खुलने के तुरंत बाद कनेक्शनधारी की तरफ से ऑनलाइन पेमेंट किया गया और बिजली विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पेमेंट के बाद बिजली नहीं काटी गई.मामले में बुधवार को नोएडा के बिजली विभाग ने बताया कि बादलपुर में बनी एक कोठी का बिजली का बकाया 67 हजार 500 चल रहा था. जिसकी जानकारी कई बार बिजली कनेक्शनधारी को दी गई. लेकिन उनकी तरफ से कोई जवाब नहीं मिलने के बाद कनेक्शन काटने की चेतावनी जारी की गई. हालांकि इसके बाद भी जब बकाया राशि जमा नहीं की गई तो हमारे कर्मचारी ने उनके घर में दी जा रही बिजली का कनेक्शन बाधित करने की तैयारी कर ली थी.

भाई के नाम पर कनेक्शन

हालांकि यह कोठी उत्तर प्रदेश की पूर्व सीएम मायावती की कोठी के नाम से ही जानी जाती है. लेकिन घर के मीटर का कनेक्शन उनके भाई आनंद के नाम पर है. वहीं पहले खबरें थी कि कोठी की बिजली का कनेक्शन काट दिया गया है. हालांकि आला अधिकारियों ने कनेक्शन काटे जाने की बात से इनकार किया.

अधिकारियों ने बताया कि आनंद कुमार के नाम से 10 किलोवाट का कनेक्शन लिया गया है. इस पर 67 हजार रुपये का बकाया था, जिस में से 50,000 रुपये बिल का जमा करा दिया गया है. कृष्ण कुमार (विद्युत वितरण खंड) ने कहा कि एक कनेक्शन हमारे यहां आनंद कुमार के नाम से है. इस कनेक्शन पर 67000 बकाया था, जिस पर नोटिस दिया गया था. इस नोटिस पर आज भुगतान के रूप में 50,000 प्राप्त हो गया है.

हाल ही में प्रियंका गांधी पर कसा था तंज

हाल ही में प्रियंका गांधी के वाराणसी दौरे पर बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने तंज कसा था. मायावती ने एक ट्वीट में लिखा था कि कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और अन्य पार्टियां सत्ता में होने पर संत रविदास को कभी सम्मान नहीं देती हैं. सत्ता से बाहर होने पर ये पार्टियां मंदिर और अन्य स्थलों पर नाटकबाजी करती हैं. जनता को इनसे सतर्क रहने की जरूरत है.

एक अन्य ट्वीट में मायावती ने कहा था कि बसपा ही एक मात्र ऐसी पार्टी है जिसने अपनी सरकार के समय इनको विभिन्न स्तर पर पूरा-पूरा मान-सम्मान दिया है, जिसे अब विरोधी पार्टियां एक-एक करके खत्म करने में लगी हैं. यह अति निन्दनीय है.