बिहार में शादी का भोज खाकर दो सौ लोगों की हालत बिगड़ी, इलाज को कैंप कर रही मेडिकल टीम


विवाह के अवसर पर दिए गए भोज का खाना विषाक्‍त निकला. इसके सेवन से दो सौ से अधिक लोग बीमार हो गए. रविवार रात भोज खाने वाले लोग सोमवार की सुबह से लगातार बीमार पड़ने लगे तो हड़कम्‍प मच गया. घटना बिहार के सारण जिला अंतर्गत सोनपुर थाना क्षेत्र के बैजलपुर गांव की है. सोमवार रात तक मिली जानकारी के अनुसार सभी बीमार खतरे से बाहर हैं.

भोज खाने वालों ने की उल्‍टी-दस्‍त की शिकायत

जानकारी के अनुसार बैजलपुर गांव के अखिलेश सिंह की पुत्री की शादी के उपलक्ष्य में भोज का आयोजन किया गया था. उसमें खाने वाले कुछ लोगों ने सोमवार को सुबह में उल्टी-दस्त की शिकायत की. बीमार लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. इसके बाद एक-एक कर बीमार होनेवाले लोगों की संख्या बढऩे लगी. सोमवार शाम तक करीब दो सौ लोग बीमार पड़ गए.

मचा हड़कम्‍प तो इलाज को पहुंची मेडिकल टीम

एक साथ दो सौ लोगों के बीमार पड़ जाने के बाद गांव में अफरा-तफरी मच गई. इसकी सूचना मिलने पर सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने छपरा से मेडिकल टीम गांव भेजी।सिविल सर्जन ने भी गांव पहुंच कर इलाज की व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है. बीमार लोगों का इलाज किया जा रहा है. गांव में मेडिकल टीम कैंप कर रही है. जीवन रक्षक दवाओं के साथ एंबुलेंस लेकर मेडिकल टीम पहुंची है.

लोगों को दी गई है स्वच्छ पानी पीने की सलाह

डॉक्‍टरों ने बताया कि बीमार लोगों को मुख्य रूप से लोग उल्‍टी-दस्त की शिकायत है. उनके बीच ओआरएस का वितरण कराया गया है। लोगों को स्वच्छ पानी पीने की सलाह दी गई है.

अस्‍पतालों में भी भर्ती कराए गए कुछ मरीज

डॉक्‍टरों के अनुसार अधिक बीमार विकास सिंह, राजन सिंह, वीर महाराज, अनु कुमारी, प्रियव्रत कुमार, ऋतुराज, अंजली कुमारी, अर्चना कुमारी, अमृता देवी, सुदामा देवी आदि का इलाज रेफरल अस्पताल में चल रहा है. जबकि, कुछ लोग सोनपुर के प्राइवेट अस्पतालों में भी भर्ती हैं.

घटना के कारणों की कराई जा रही जांच

बरात में आए वर पक्ष के लोगों के भी बीमार होने की सूचना मिली है. सिविल सर्जन ने बताया कि घटना के कारणों की जांच कराई जा रही है. हालांकि, भोज के आयोजक अखिलेश सिंह के पुत्र चंदन सिंह ने बताया कि उनके परिवार के सभी लोग ठीक हैं. भोज खाने के कारण किसी को किसी तरह की परेशानी नहीं है। बीमारी का कारण कुछ और है.