About Me

header ads

अटल जी की तस्वीर के अनावरण पर नहीं पहुंची ममता बनर्जी तो राज्यपाल ने सीएम को लेकर कही ये बात


आमंत्रण के बावजूद राजभवन में पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी की जयंती पर उनकी पोट्र्रेट (आदम कद चित्र) के अनावरण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (दीदी) सहित पूरे सरकारी अमले के दूर रहने से राज्यपाल जगदीप धनखड़ काफी व्यथित हैं.

25 दिसंबर यानी बुधवार को अटल जी की 95वीं जयंती थी. इस उपलक्ष्य में बुधवार को राजभवन में पूर्व प्रधानमंत्री की आदम कद तस्वीर का राज्यपाल जगदीप धनखड़, पूर्व राज्यपाल श्यामल सेन ने अनावरण किया. इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए राज्यपाल ने मुख्यमंत्री को भी आमंत्रित किया था, हालांकि वह नहीं आई.

27 नवंबर को ही भेजा गया था निमंत्रण

राजभवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में राज्यपाल ने दावा किया कि इस कार्यक्रम के संबंध में नवान्न को बहुत पहले बता दिया गया था.  उन्होंने कहा कि पिछले 27 नवंबर को ही अटल जी की त्रियामी तस्वीर के अनावरण का विचार आया था और उसी दिन आमंत्रण पत्र मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भेजा गया था. हालांकि उस पत्र का राज्य सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री राज्य की कार्यकारी प्रधान हैं. मैं यह नहीं कहता कि उन्हें की तस्वीर का अनावरण करना चाहिए. उनकी अन्य व्यस्तताएं भी हो सकती है और मैं उनका सम्मान करता हूं. मुझे इस बात का दुख नहीं है कि मुख्यमंत्री नहीं आई, लेकिन मुझे यह बात व्यथित कर रही है कि राज्य सरकार व प्रशासन इस कार्यक्रम से दूर रहा. उन्होंने ने जोर देते हुए कहा कि संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों का सम्मान होना चाहिए. लेकिन अफसोस की बात की यहां एक गलत परंपरा जारी है। ऐसे लगता है कि पूरी की पूरी राज्य सरकार आयोजन से दूर है. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जैसी शख्सियत के साथ ऐसा नहीं होना चाहिए.

तवज्जो देने की जरूरत नहीं: हकीम

इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया देते हुए राज्य के मंत्री व कोलकाता के मेयर फिरहाद हकीम ने उन्हें ज्यादा तवज्जो देने से इन्कार कर दिया. राज्यपाल के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि उनकी बातों पर अब ध्यान देने की जरूरत नहीं है. वह लोगों के सामने अब मजाक के पात्र हो चुके हैं.

देश हित था अटल जी के लिए सर्वोच्च : ममता

ममता बनर्जी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहार वाजपेयी की जयंती पर बुधवार को उन्हें श्रद्धांजलि दी और कहा कि उनके लिए दलगत राजनीति से इतर देश हित सर्वोच्च था. तृणमूल प्रमुख ने कहा कि हमें वाजपेयी जी को बहुत याद आती है. बुधवार सुबह बनर्जी ने ट्विटर पर लिखा, 'अटल बिहारी वाजपेयी जी की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि. वह ऐसे राजनेता थे जिन्होंने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर देश हित के लिए काम किया। आज भी हम उन्हें बहुत याद करते हैं.'