About Me

header ads

PM की भतीजी से छिनैती के बाद आराम कर रहा था आरोपी, पत्नी ने बताया तो उड़े होश


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती बेन के साथ शनिवार को उपराज्यपाल के आवास के करीब सिविल लाइंस स्थित गुजरात भवन के सामने छिनैती हुई थी. मामला पीएम के परिवार से जुड़ा होने के कारण तत्काल हरकत में आई पुलिस ने अगले ही दिन इस वारदात को अंजाम देने वाले अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया.

अपराधियों के पास से छिनैती के सामान बरामद हो गए हैं और पुलिस पूछताछ में रोज नए खुलासे भी हो रहे हैं. जानकारी के अनुसार पीएम की भतीजी के साथ छिनैती करने वाले दोनों अपराधी नशेड़ी हैं और तब से आपराधिक वारदातों को अंजाम दे रहे हैं जब वह नाबालिग थे.

पुलिस के अनुसार दोनों जब नाबालिग थे, तब से फ्लूड लेते हैं और गांजा पीते हैं. शादी के बाद परिवार चलाने के लिए भी दोनों आपराधिक वारदातों को अंजाम देते हैं. पुलिस ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद दोनों का रिएक्शन सामान्य है.

दोनों शादीशुदा, पहले भी जा चुके हैं जेल

पुलिस ने इस मामले में जिन दो अपराधियों बादल और गौरव उर्फ नोनू को गिरफ्तार किया है, वह दोनों ही शादीशुदा हैं. दोनों ने ही नाबालिग रहते हुए ही चोरी की छोटी घटनाओं से जुर्म की दुनिया में कदम रखा था. बाद में यह छिनैती करने लगे. छिनैती की घटनाओं में पुलिस पहले भी इन्हें गिरफ्तार कर चुकी है.

बताया जाता है कि दोनों के बालिग होने के बाद यह इनकी पहली बड़ी वारदात है, जिसमें इन्होंने पीएम मोदी की भतीजी के साथ ही छिनैती की वारदात को अंजाम दे दिया.

पत्नी ने दी पीएम की भतीजी होने की जानकारी

वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों ही अपराधी आराम से फरार हो गए थे. गौरव उर्फ नोनू की पत्नी ने अगले दिन अखबार में देख कर जिसके साथ छिनैती हुई, उसके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी होने की जानकारी दी. जानकारी होते ही दोनों के होश उड़ गए. बादल सुल्तानपुरी से और नोनू भी अपने घर से फरार हो गया था.

पुलिस की रेड से हुआ बड़े मामले का एहसास

जब आरोपियों के घरों पर भारी भरकम पुलिस टीम ने रेड की, तब दोनों को मामले के बड़ा होने का एहसास हुआ. आरोपियों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि पूरी जानकारी परिवार के लोगों और दोस्तों ने दी.