About Me

header ads

अर्थव्यवस्था के खस्ता हाल पर मनमोहन का सवाल, वित्त मंत्री सीतारमण ने दिया ये जवाब


देश की अर्थव्यवस्था के बारे में पूर्व प्रधानमंत्री और अर्थशास्त्री रहे मनमोहन सिंह के हालिया बयान पर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सीधे तौर पर कोई जवाब नहीं दिया। पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल पर वित्त मंत्री ने कहा, 'उन्होंने जो कहा है उसपर मेरा कोई विचार नहीं है, उन्होंने जो कहा है मैंने भी उसे सुना है।' वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा, क्या डॉ. मनमोहन सिंह कह रहे हैं कि 'राजनीतिक प्रतिशोध में शामिल होने के बजाय उन्हें चुप्पी साधे लोगों से सलाह लेनी चाहिए? क्या उन्होंने ऐसा कहा है? ठीक है, धन्यवाद, मैं इस पर उनकी बात सुनूंगी। यही मेरा जवाब है।'

निर्मला सीतारमण ने कहा, 'मैं उद्योगों से मिल रही हूं और उनके इनपुट्स ले रही हूं। सरकार से वे क्या चाहते हैं, इस पर सुझाव ले रही हूं। मैं उनका जवाब भी दे रही हूं। मैं पहले भी दो बार ऐसा कर चुकी हूं और ऐसा आगे भी करूंगी।'


मनमोहन सिंह ने क्या कहा था

बता दें कि भारत की गिरती जीडीपी को लेकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार के नीतियों की आलोचना की। सिंह ने एक बयान में कहा है, 'हमारी अर्थव्यवस्था व्यक्ति द्वारा की गई गलतियों से नहीं उबर पाई है, जिसने नोटबंदी और जीएसटी को जल्दबाजी में लागू किया। यह विशेष रूप से चिंताजनक है कि विनिर्माण क्षेत्र की वृद्धि 0.6% पर आ गई।'

उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था आज बेहद चिंताजनक है। पिछले तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर 5 फीसद रही है। पूर्व पीएम ने कहा कि भारत में बहुत तेज गति से बढ़ने की क्षमता है लेकिन मोदी सरकार की ओर से की गई गलतियां आज की मंदी की वजह है।