डीएमआरसी के निदेशक ने पटना मेट्रो निर्माण स्थलों का किया निरीक्षण


युवा शक्ति संवाददाता 
पटना: 
दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) के निदेशक (इलेक्ट्रिकल) ओ.एच.पांडे ने बुधवार को पटना मेट्रो परियोजना के निर्माण स्थलों का निरीक्षण किया. उन्होंने मोइन उल हक स्टेडियम, राजेंद्र नगर, मलाही पकड़ी, खेमनीचक, भूतनाथ, जीरो माइल, सगुना मोड़, मीठापुर आरएसएस और डिपो का दौरा किया.श्री पांडे ने मोइन उल हक स्टेडियम साइट से निरीक्षण शुरू किया. जहां अधिकारियों द्वारा उन्हें टीबीएम टनलिंग की कार्य प्रगति तथा स्टेशन में विद्युत संबंधित हो रहे कार्यों की जानकारी दी गई.साथ ही टनल में खुदाई का कार्य भी जल्द शुरू होने की बात कही गई.अधिकारियों द्वारा उन्हें पटना मेट्रो परियोजना के सभी निर्माण स्थलों पर कार्य की प्रगति से अवगत कराया गया.

काम की स्थिति और साइट पर आने वाली विभिन्न चुनौतियों के विषय में भी चर्चा की.
श्री पांडे ने इलेक्ट्रिकल यूटिलिटी डायवर्जन कार्यों, विशेष रूप से इलेक्ट्रिकल विंग द्वारा 132 केवी ट्रांसमिशन लाइन के संबंध में काम की स्थिति और साइट पर आने वाली विभिन्न चुनौतियों के विषय में भी चर्चा की.निर्धारित समय में कार्य शुरू करने हेतु जिला प्रशासन और स्थानीय लोगों के साथ स्थापित समन्वय तथा समय पर अनुमति देने के बारे में भी इंजीनियरों द्वारा जानकारी दी गई.

डीएमआरसी के विद्युत विभाग के अधिकारियों द्वारा उन्हें ज़ीरो-माईल स्थित साइट पर निर्माणाधीन विद्युत टावरों के निर्माण की प्रगति के विषय में जानकारी दी गई.श्री पांडे ने आईएसबीटी डिपो का भी दौरा किया, जहां चारदीवारी के साथ-साथ भवन की नींव का निर्माण कार्य प्रगति पर है.

कंकड़बाग के मलाही पकड़ी से पाटलिपुत्र आईएसबीटी तक 6.6 किलोमीटर का एलिवेटेड रूट है.
गौरतलब है कि कंकड़बाग के मलाही पकड़ी से पाटलिपुत्र आईएसबीटी तक 6.6 किलोमीटर का एलिवेटेड रूट है. इस मार्ग में पांच स्टेशन मलाही पकड़ी, खेमनीचक, भूतनाथ, जीरो माइल और आईएसबीटी हैं.इन इलाकों में पिलर बनाए जा रहे हैं.पाटलिपुत्र बस टर्मिनल के निकट बैरिया, संपतचक में पटना मेट्रो का डिपो होगा.कॉरिडोर- ll के पटना रेलवे स्टेशन, नए आईएसबीटी के लिए डिपो सुविधाओं का निर्माण बैरिया के पास संपतचक, पैजवा में किया जा रहा है.मलाही पकड़ी से पाटलिपुत्र आईएसबीटी रूट पर 40 फीट के पिलर के ऊपर निर्मित ट्रैक पर मेट्रो दौड़ेगी.श्री पाण्डे ने पटना मेट्रो परियोजना के निर्माण कार्यों का निरीक्षण करने के बाद विद्युत विभाग के सभी संबंधित अधिकारियों को दिए गए निर्देशों पर त्वरित कार्रवाई करने तथा उनके अनुपालन के विषय में शीघ्र सूचित करने का निर्देश दिया.साथ ही सुरक्षा उपायों से समझौता नहीं करने हेतु महत्वपूर्ण दिशा निर्देश भी दिए. 
Previous Post Next Post