आदिवासी बालक एवं बालिकाओं को चंडीगढ़ भ्रमण हेतु रवाना किया

29वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल, गया (बिहार) एवं नेहरू युवा केंद्र गया के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित 14वें जनजातिय युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम के तहत तहत कुल 20 आदिवासी बालक एवं बालिकाओं को चंडीगढ़ भ्रमण हेतु रवाना किया जा रहा है। युवा बच्चों के इस दल को श्री एच के गुप्ता, कमांडेंट, 29वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल, गया (बिहार) ने हरी झंडी दिखाकर चंडीगढ़ के लिए रवाना किया । इस मौके पर एच के गुप्ता, कमांडेंट, 29वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल, गया (बिहार) ने कहा कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य भ्रमण कराने के साथ-साथ देश की समृधि आदिवासी संस्कृति का आदान प्रदान करना है । एकता कैंपों के माध्यम से देश की अखंडता एवं एकता बनाए रखने और विभिन्न कौशल विकास के माध्यम से रोजगार की संभावनाएं तलाशना भी महत्वपूर्ण कार्य है इस मौके पर श्री टी राजेश पॉल, द्वितीय कमान अधिकारी, श्री ज्ञानेन्द्र कुमार, उप कमांडेंट, नेहरू युवा केंद्र के अनंजनी कुमार, जिला युवा अधिकारी, सुरेन्द्र कुमार तिवारी, लेखा एवं कार्क्रम प्रभारी एवं अन्य बल कर्मी भी उपस्थित रहे ।

पिछले माह दिसंबर में भी इस कार्यक्रम के अंतर्गत बालक बालिकाओं को भोपाल भेजा गया था वे बालक- बालिकाएं जिला गया बिहार के थे। इस का उद्देश्य देश की संस्कृति का आदान-प्रदान व विकास की मुख्यधारा से आदिवासी समाज को जोड़ने के संदर्भ में था ।