3 लाख से ज्‍यादा पेंशनरों को सरकार का बड़ा तोहफा, इस तारीख से बढ़ा दी रकम

Punjab में 3 लाख से ज्‍यादा पेंशनर की बल्‍ले-बल्‍ले हो गई है। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने वित्त विभाग को एक जुलाई 2021 से संशोधित पेंशन का भुगतान 3 लाख से अधिक पेंशनभोगियों को करने का निर्देश दिया है। इससे राज्य सरकार पर चालू वित्त वर्ष में 1,887 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। एक आधिकारिक बयान के अनुसार पंजाब के छठे वेतन आयोग की सिफारिशों के अनुरूप यह फैसला किया गया है।

चन्नी ने छुट्टियों को भुनाने और ग्रैच्युटी जैसे दूसरे फायदे के भुगतान का भी निर्देश दिया। यह करीब 915 करोड़ रुपये बैठेगा। इसका भुगतान एक जनवरी, 2016 से 30 जून, 2021 के दौरान सेवानिवृत्त हुए 42,600 पेंशनभोगियों को किया जाएगा। कुल मिलाकर इन फैसलों से सरकारी खजाने पर 2,802 करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसी संशोधित पेंशन एक जुलाई 2021 से पेंशनरों को एकमुश्त अदा की जाएगी।

इससे पहले सितंबर में सरकार ने राज्‍य कर्मचारियों का सिटी कंपनसेटरी भत्ता (City Compensatory allowance) 100 रुपये से बढ़ाकर 200 रुपये कर दिया था। जिन शहरों में 120 रुपये मिलता था वहां 240 रुपये कर दिया गया है। ग्रामीण भत्ता अब 6 के बजाए पांच फीसद होगा। परंतु बेसिक पे बढ़ जाने से यह रकम पहले से बढ़कर मिलेगी। इसके अलावा सरकार ने मेडिकल भत्ता 500 रुपये से बढ़ाकर 1000 रुपये कर दिया है।

सरकार ने मोबाइल भत्ता भी बढ़ा

D और C श्रेणी : 250 से बढ़ाकर 500 रुपये

B श्रेणी : 300 से बढ़ाकर 600 रुपये

A श्रेणी : 500 से बढ़ाकर 1000 रुपये

यात्रा भत्‍ता भी बढ़ाया गया

C और D श्रेणी : 500 से बढ़कर 1000 रुपये

B श्रेणी : 750 से बढ़ाकर 1500 रुपये

A श्रेणी : 1000 से बढ़ाकर 2000 रुपये

सरकार ने मोबाइल भत्ता भी बढ़ा

D और C श्रेणी : 250 से बढ़ाकर 500 रुपये

B श्रेणी : 300 से बढ़ाकर 600 रुपये

A श्रेणी : 500 से बढ़ाकर 1000 रुपये

यात्रा भत्‍ता भी बढ़ाया गया

C और D श्रेणी : 500 से बढ़कर 1000 रुपये

B श्रेणी : 750 से बढ़ाकर 1500 रुपये

A श्रेणी : 1000 से बढ़ाकर 2000 रुपये

सरकार ने मोबाइल भत्ता भी बढ़ा

D और C श्रेणी : 250 से बढ़ाकर 500 रुपये

B श्रेणी : 300 से बढ़ाकर 600 रुपये

A श्रेणी : 500 से बढ़ाकर 1000 रुपये

यात्रा भत्‍ता भी बढ़ाया गया

C और D श्रेणी : 500 से बढ़कर 1000 रुपये

B श्रेणी : 750 से बढ़ाकर 1500 रुपये

A श्रेणी : 1000 से बढ़ाकर 2000 रुपये

बता दें कि पंजाब की सरकार ने सितंबर में सरकारी कर्मचारियों को छठे वेतन आयोग का फायदा देने का ऐलान किया था।