1 अक्टूबर से घर बैठे बनेगा लाइफ सर्टिफिकेट, जानिए इसका पूरा प्रोसेस

कुछ वक्त पहले पंकज त्रिपाठी की फिल्म कागज रिलीज हुयी थी, जिसमें पंकज त्रिपाठी को अपना लाइफ सर्टिफिकेट बनाने के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ती है। पंकज त्रिपाठी की तरह ही देश के ना जाने कितने लोग रोजाना अपने जिंदा होने का सबूत देने के लिए पोस्ट ऑफिस और अन्य सरकारी दफ्तर के चक्कर काटते हैं। इस जद्दोजहद को कम करने इरादे से पीएम मोदी सरकार की तरफ से डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट (DLC) बनाने की प्रक्रिया शुरू की गई है, जो आगामी 1 अक्टूबर 2021 से लागू हो रही है। जिसकी मदद से लोग घर बैठे डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट (DLC) बनवा पाएंगे। आइए जानते हैं इसका पूरा प्रोसेस...

कहां बनेंगे DLC

DLC देश के हेड पोस्ट ऑफिस स्थित जीवन प्रमाण सेंटर (JPC) में बनेंगे। सभी डाकघर को जेपीसी बनाने के निर्देश दिये गये हैं। वहीं अगर आप चाहते हैं, तो घर बैठे ऑनलाइन मोड से भी DLC बनावा सकते हैं।

कैसे ऑनलाइन बनवाएं DLC

सबसे पहले Jeevanpramaan.gov.in/app पर विजिट करना होगा।

इसके बाद रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरा करना होगा।

इसके बाद पेंशनर को प्रमाण आईडी फोन पर SMS के जरिए मिलेगी।

इसकी मदद से पेंशनर्स DLC डाउनलोड और प्रिंट कर सकेंगे।

किन दस्तावेज की होगी जरूरत

यूजर को आधार नंबर, बैंक से लिंक मोबाइल नंबर और बैंक या पोस्ट ऑफिस जैसी किसी पेंशन डिस्बर्सिंग एजेंसी से आधार के रजिस्ट्रेशन की जरूरत होगी।

किसी बॉयोमेट्रिक डिवाइस, स्मार्टफोन, टैबलेट क मददद से खुद भी DLC आईडी जेनरेट की जा सकती है।

DLC बनने के बाद क्या करें 

DLC की प्रक्रिया पूरी होने के बाद जीवन प्रमाण पत्र यूनीक आईडी में बदल जाएगा। इसके बाद अगर पेंशनर्स जीवित हैं, तो उसका प्रमाण पत्र बैंक ब्रांच या पोस्ट ऑफिस में अपने आप पहुंच जाएगा।