Kolkata: न्यूटाउन में 31 करोड़ की लागत से बनाया जाएगा सरकारी स्कूल, 18 माह में पूरा हो जाएगा कार्य

न्यूटाउन के लोगों की पिछले कई वर्षों की मांग को पूरा करने की ओर कदम बढ़ाते हुए अब वेस्ट बंगाल हाउसिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (हिडको) ने पहल की है। यहां के लोगों की मांग थी कि न्यूटाउन में एक सरकारी स्कूल बनाया जाए। यहां एक भी सरकारी स्कूल नहीं होने के कारण अ​भिभावकों को काफी परेशानी होती है। हालांकि अब अगले एक वर्ष में इस समस्या का हल होने की उम्मीद है।

हिडको की ओर से जो टेंडर जारी किया गया है, उसमें स्कूल का अनुमानित बजट 31 करोड़ 38 लाख 24 हजार 151 है। वहीं अग्रिम धन राशि 62 हजार 76 हजार 483 रुपये तय की गयी है। बताया गया है कि स्कूल निर्माण कार्य शुरू होने के बाद अगले 18 महीने के अंदर स्कूल निर्माण का काम पूरा कर लिया जाएगा।

कई लोग ऐसे जो बच्चों को नहीं भेज पा रहे हैं स्कूल

न्यूटाउन सिटीजन्स वेलफेयर फ्रेटरनिटी के सचिव समीर गुप्ता ने बताया कि न्यूटाउन में एक भी सरकारी स्कूल नहीं होने के कारण कुछ अभिभावक ऐसे भी हैं जो अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेज पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि न्यूटाउन से सटे आस-पास के गांवों में सरकारी स्कूल हैं जहां बच्चों को भेजना पड़ता है। ये स्कूल काफी दूर होने के कारण कई लोग यहां बच्चों को नहीं भेजते और निजी स्कूलों में दाखिला कराने का सामर्थ्य उनमें नहीं है।

कई ऐसी कोऑपरेटिव सोसाइटीज हैं ​जिनके केयर टेकर अपने परिवार के साथ यहां रहते हैं, लेकिन सरकारी स्कूल नहीं होने के कारण वे अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजते हैं। हालांकि अब उम्मीद है कि इस समस्या का समाधान होगा। इसके लिए फ्रेटरनिटी द्वारा हिडको को धन्यवाद जताया गया।

न्यूटाउन के हर ब्लॉक में कम्युनिटी हॉल की मांग

न्यूटाउन सिटीजन्स वेलफेयर फ्रेटरनिटी की ओर से सभी ब्लॉक में कम्युनिटी हॉल बनाने की मांग भी की गयी है। इस बारे में समीर गुप्ता ने कहा कि जल्द ही इसे लेकर वह हिडको के चेयरमैन फिरहाद हकीम से मुलाकात करेंगे।