अब झारखंड में लगेगी किसान पाठशाला, हाईवे से जुड़ेंगे ये जिले; स्वतंत्रता दिवस पर क्या बोले CM हेमंत, यहां पढ़ें

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मोरहाबादी मैदान में झंडारोहण किया।कार्यक्रम के दौरान विशिष्‍ट सेवा के लिए लोगों को सम्‍मानित किया गया। इस कार्यक्रम के दौरान अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। सावधानी बरतें। कोरोना गाइडलाइन का पालन करें। राज्य के लोगों को टीकाकरण में कोई परेशानी न हो, इसे सुनिश्चित किया जा रहा है। राज्यवासी शीघ्र अपना और अपने परिजनों का टीकाकरण कराएं। इसके अलावा उन्होंने कई घोषणाएं कीं।

स्वतंत्रता दिवस समारोह में क्या बोले सीएम हेमंत सोरेन

- राज्य के तृतीय पदों पर नियुक्ति के लिए यहां के शैक्षणिक संस्थानों से दसवीं या 12वीं उत्तीर्ण होना अनिवार्य। आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों को इससे मुक्त रखा गया है।

- ओलिंपिक खेलों में भाग लेनेवाले खिलाड़ियों को पांच लाख रुपये का प्रविधान। स्वर्ण, रजत तथा कांस्य पदक जीतने पर क्रमशः दो करोड़, एक करोड़ तथा 50 लाख दिए जाएंगे।

- झारखंड के जीडीपी में कृषि के योगदान को 12 प्रतिशत करने का राज्य सरकार ने लक्ष्य रखा है।

- झारखंड जनजातीय विश्वविद्यालय तथा झारखंड खुला विश्वविद्यालय शीघ्र। 1.28 लाख विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री विशेष छात्रवृत्ति दी जा रही है। इसके लिए 10 करोड़ रुपये दिए गए हैं।

- इस वर्ष लगभग 16 लाख ग्रामीण परिवारों को पाइपलाइन से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा।

- राष्ट्रीय उच्च पथों पर स्थित शहरों जैसे चतरा, गढ़वा, पाकुड़, देवघर, गिरिडीह खूंटी, चाईबासा, लोहरदगा, गोड्डा, दुमका, चक्रधरपुर एवं मनोहरपुर में बाईपास के निर्माण की स्वीकृति दी गई है।

- शहरी क्षेत्रों के सभी पार्कों का विकास किया जाएगा।

- किसानों की क्षमता के विकास के लिए कृषक पाठशाला की योजना शुरू की जाएगी। किसानों को कृषि, पशुपालन, मत्स्य पालन तथा सूकर पालन में दक्ष बनाकर उनकी आय में वृद्धि की जाएगी।

- मुख्यमंत्री पुलिस पदाधिकारियों औऱ जवानों को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए वीरता पुरस्कार प्रदान कर रहे हैं।