भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष पर भाजपा नेता तथागत राय ने किया कटाक्ष, कहा- मूर्खों का हाल बुरा ही होता

संसद में गलत मात्रा का प्लेकार्ड लेकर धरना देने के बाद अब प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष पर भाजपा नेता तथागत राय ने कटाक्ष किया है। बागनान में भाजपा कार्यकर्ता की पत्नी से सामूहिक दुष्कर्म के आरोप में दिलीप घोष के नेतृत्व में भाजपा सांसदों ने धरना दिया था जिसमें देखा गया कि दिलीप घोष के हाथों में जो प्ले कार्ड था, उसमें​ लिखे हुए शब्दों की मात्रा गलत थी। धरने की तस्वीरे सामने आने के बाद ही दिलीप घोष पर तृणमूल ने कटाक्ष किया। वहीं ट्वीट कर भाजपा नेता तथागत राय ने भी दिलीप घोष पर निशाना साधा।

अपने ट्वीटर हैंडल पर तथागत राय ने लिखा, ‘इस कारण ही विद्यासागर कह गये कि मूर्खों का हाल बुरा ही होता है। जिसने पोस्टर छापा, उसकी बात कह रहा हूं। ई की मात्रा भी पहचान में नहीं आ रही।’ अपने ट्वीट के साथ तथागत ने धरने की तस्वीर भी पोस्ट की है जिसमें दिलीप घोष हाथों में प्ले कार्ड लिये दिख रहे हैं। इस ट्वीट पर दिलीप घोष ने कहा, ‘तथागत बाबू हमारी पार्टी के वरिष्ठ नेता हैं, इस कारण उनके ट्वीट पर कुछ नहीं कहूंगा।’

तथागत राय भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं और त्रिपुरा तथा मेघालय के राज्यपाल रह चुके हैं। इस चुनाव में उन्होंने एक बार फिर सक्रिय राजनीति में उतरने की इच्छा जताई थी। वे भवानीपुर से चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन पार्टी ने रुद्रनील घोष को टिकट दिया जो तृणमूल के शोभन देव चट्टोपाध्याय से हार गए।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी की उम्मीद के मुकाबले बेहद खराब प्रदर्शन को पार्टी के अनेक नेता पचा नहीं पा रहे हैं। ऐसे ही नेताओं में एक हैं तथागत राय। वैसे तो वे खुलकर अपनी राय व्यक्त करने के लिए जाने जाते हैं, लेकिन कल तक उनकी राय भाजपा विरोधियों के लिए होती थी। नतीजे आने के बाद उन्होंने पार्टी नेतृत्व पर ही हमला बोला था। पार्टी ने जिन सिनेमा और टीवी स्टार को टिकट दिया था, उन्हें उन्होंने ‘नगरीय नटी’ और पार्टी नेतृत्व के लिए ‘प्रभु’ शब्द का इस्तेमाल किया था। उन्होंने पार्टी नेतृत्व पर सवाल भी उठाए थे। उनके इस ट्वीट पर प्रदेश में बवाल मच गया है।