बिहार के एक विभाग को लालू प्रसाद ने बताया लूट का अड्डा, बोले- नीतीश के दो प्यादे कर रहे काम

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद ने बिहार में अत्यधिक बारिश के बाद बाढ़ के हालात पर राज्य सरकार की व्यवस्था पर तंज कसा है। उन्होंने इसे शास्त्रीय लूट करार दिया है। शनिवार को ट्वीट करके लालू ने जल संसाधन विभाग को लूट का अड्डा बताया है। उन्होंने लिखा है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने दो प्यादों को इस विभाग को लूटने का जिम्मा सौंपा है। 

सौ करोड़ का ठीका देती है सरकार

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद ने कहा कि राज्य सरकार कई सौ करोड़ का ठीका देती है। बारिश में ही लाखों रुपये की मिट्टी डलवाने की खानापूर्ति की जाती है और फिर बाद में कह दिया जाता है कि बाढ़ में सब ढह गया, बह गया, क्योंकि इसका कोई आडिट नहीं होता है। बता दें कि राजद कोरोना काल के दौरान बिहार सरकार की नीतीश कुमार पर लगातार हमलावर है। खुद राजद सुप्रीमो के साथ उनके बेटा-बेटी सरकार पर कटाक्ष कर रहे हैं। 

सरकार पर हमले को धारदार बनाएगा राजद

राज्य ब्यूरो, पटना : विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने शनिवार को राजद प्रवक्ताओं के साथ विचार-विमर्श किया। बैठक रविवार को भी होनी है। पहले दिन तय हुआ कि राज्य सरकार की गलत नीतियों को तर्कपूर्ण तरीके से मीडिया के सामने रखना है। कोई भी आरोप आधारहीन नहीं हो। साक्ष्यों के साथ बात करनी है।

पांच जुलाई को है राजद का स्थापना दिवस

पांच जुलाई को राजद का स्थापना दिवस है। इसी दिन लोजपा के संस्थापक रामविलास पासवान की जयंती भी है। पहली बार राजद ने पासवान की भी जयंती मनाने का निर्णय लिया है। इसे लेकर बिहार की राजनीति में हलचल है। प्रवक्ताओं को इस लाइन पर भी निर्देश दिए गए हैं। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह, भोला यादव, भाई वीरेंद्र, रामानुज प्रसाद, चितरंजन गगन, मृत्युंजय तिवारी, अख्तरूल इस्लाम शाहीन, ईज्या यादव, सारिका पासवान समेत 14 प्रवक्ता शामिल थे।