सीरम इंस्टीट्यूट बनाएगा Sputnik V, वैक्सीन उत्पादन के लिए डीसीजीआई से मांगी अनुमति

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) ने ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से कोविड-19 वैक्सीन स्पुतनिक वी के उत्पादन के लिए अनुमति मांगी है। सूत्रों ने बताया कि कंपनी ने वैक्सीन के परिक्षण के लिए डीसीजीआई को आवेदन दिया है।भारत के औषधि महानियंत्रक की ओर से डा. रेड्डी प्रयोगशाला को स्पूतनिक वी टीके के आपातकालीन इस्तेमाल की पहले ही मंजूरी मिल चुकी है।

इससे पहले मंगलवार को रूसी वैक्सीन स्पूतनिक वी की 30 लाख खुराक की एक खेप हैदराबाद पहुंची। 56.6 टन वजनी, टीके की यह खेप भारत में आयात होने वाली अब तक की सबसे बड़ी खेप थी। स्पूतनिक वी के भंडारण के लिए विशेषज्ञता की आवश्यकता होती है। इसे शून्य से 20 डिग्री सेल्सियस कम तापमान पर रखा जाता है। डा. रेड्डी का रूस के साथ भारत में स्पूतनिक वी की 12.5 करोड़ खुराक बेचने को लेकर करार हुआ है।