Lockdown: बंगाल में एक जुलाई तक बढ़ा लॉकडाउन, जानें-क्या रहेगा बंद और किसे मिलेगी छूट

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए बंगाल सरकार ने कुछ ढील के साथ राज्य में लॉकडाउन संबंधी पाबंदियों को एक जुलाई तक बढ़ा दिया है। सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद इसका ऐलान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस दौरान बस, मेट्रो, लोकल ट्रेनें व अन्य सार्वजनिक परिवहन सेवा भी पहले की तरह एक जुलाई तक बंद रहेंगी। राज्य में 16 मई से ही लॉकडाउन चल रहा है। हालांकि राज्य सरकार ने कुछ क्षेत्रों में लॉकडाउन से छूट की भी घोषणा की है। राज्य के मुख्य सचिव हरिकृष्ण द्विवेदी ने बताया कि 16 जून से कुछ शर्तों के साथ रेस्तरां (रेस्टोरेंट्स) व बार को 50 फीसद ग्राहक क्षमता के साथ दोपहर 12 से रात आठ बजे तक खोलने की अब अनुमति होगी। सुबह 11 से शाम 6 बजे तक 30 फीसद ग्राहकों की मौजूदगी के साथ शॉपिंग मॉल भी खुल सकेंगे। 16 जून से 25 फीसद कर्मचारियों के साथ सरकारी दफ्तर भी खुलेंगे। वहीं, प्राइवेट व कॉरपोरेट दफ्तर भी 25 फीसद कर्मचारियों के साथ सुबह 10 से सायं चार बजे तक खुल सकेंगे।

खुदरा-दुकानें व बाजार- हाट अब प्रातः सात से 11 बजे तक खुली रहेंगी। वहीं, बैंक पहले की तरह 10 से दोपहर दो बजे तक खुलेंगे।राज्य सरकार ने पार्क खोलने की भी अनुमति दी है, लेकिन केवल वैक्सीन ले चुके लोगों को ही उसमें जाने की अनुमति होगी। इसके अलावा बिना दर्शक के मैदान में खेल गतिविधि को भी इजाजत दी गई है। मुख्य सचिव ने बताया कि सभी स्कूल- कॉलेज व शिक्षण संस्थान अगले आदेश तक पहले की तरह बंद रहेंगे। वहीं, लॉकडाउन की अवधि में रात नौ से सुबह पांच तक लोगों की गतिविधियां पहले की तरह पूरी तरह प्रतिबंधित रहेंगी। हालांकि आपातकालीन सेवाओं को इससे छूट जारी रहेगी। दूसरी तरफ, 16 जून से भक्तों के लिए प्रसिद्ध तारापीठ मंदिर भी खुल जाएगा। हालांकि मंदिर में शारीरिक दूरी के नियमों का पूरा पालन करना होगा।

बंगाल में रविवार को 3,984 और लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के बाद इसके कुल मामले बढ़कर 14,61,257 हो गए। वहीं, पिछले 24 घंटे के दौरान इस महामारी से 84 और मरीजों की मौत के बाद मृतकों की संख्या 16,896 हो गई है। राज्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन में इसकी जानकारी दी गई है। बुलेटिन के अनुसार, उत्तर 24 परगना जिले में कोविड-19 के सबसे अधिक 597 नये मामले सामने आये जबकि कोलकाता में 426 और रोगियों का पता चला। उत्तर 24 परगना जिले में ही सबसे अधिक 20, कोलकाता में 15 और हावड़ा में नौ मरीजों ने कोरोना से जान भी गंवायी है।