West Bengal: कोरोना संक्रमित वरिष्ठ आइपीएस अधिकारी देवाशीष पाणिग्रही का कोलकाता में निधन

वरिष्ठ आइपीएस अधिकारी देबाशीष पाणिग्रही का निधन कोलकाता के एक निजी अस्पताल में हो गया है। वह कोरोना संक्रमित थे। वे 55 साल के थे। वर्ष 1991 बैच के आइपीएस अधिकारी देवाशीष ओडिशा पुलिस के सतर्कता निदेशक थे। परिवार में पत्नी, बेटा और एक बेटी है। गत आठ जून को उन्हें एयर एंबुलेंस से कोलकाता लाकर एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। रात 10:15 पर उन्होंने आखिरी सांस ली है। घर वालों ने बताया कि जून के पहले सप्ताह में उन्हें कोरोना से बचाव के लिए टीके की दोनों खुराक दे दी गई थीं, बावजूद उसके वह महामारी की चपेट में आ गए।

उन्हें घर पर ही पृथकवास में रखकर इलाज चल रहा था लेकिन स्थिति बिगड़ने के बाद उन्हें कटक के अश्विनी कोविड अस्पताल में भर्ती किया गया था। वहां उन्हें वेंटिलेशन पर रखना पड़ा था। जब सांस लेने में और अधिक तकलीफ बढ़ गई थी तो एयर एंबुलेंस से कोलकाता लाकर एक निजी अस्पताल में भर्ती कर दिया गया था। उनके निधन पर केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने सोशल मीडिया के जरिए दुख व्यक्त किया है।

दूसरी ओर बंगाल के पूर्व मुख्य सचिव अलापन बनर्जी की मां का निधन शनिवार को हो गया है। इस पर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने दुख व्यक्त किया है। अलापन बनर्जी और उनकी पत्नी सोनाली चक्रवर्ती बनर्जी को ट्वीट में टैग करते हुए राज्यपाल ने लिखा कि अलापन बनर्जी की मां की मौत से संबंधित दुखद खबर मिली है। मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि दिवंगत आत्मा को श्री चरणों में स्थान दें। उनके परिवार, दोस्तों और शुभचिंतकों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं। इस दुख की घड़ी को सहने की क्षमता ईश्वर उन्हें दें।

उल्लेखनीय है कि अलापन बनर्जी की पत्नी कलकत्ता विश्वविद्यालय में प्रोफ़ेसर हैं। इसके अलावा उनके एक भाई अंजन बनर्जी प्रख्यात पत्रकार थे जिनकी कुछ दिनों पहले ही मौत हुई है।