Bengal Politcs: विधानसभा चुनाव में जबरदस्त जीत के बाद अब अपने पार्टी मुख्यालय को हाईटेक रूप देने जा रही तृणमूल

हालिया संपन्न बंगाल विधानसभा चुनाव में जबरदस्त जीत के बाद अब तृणमूल कांग्रेस अपने पार्टी मुख्यालय को हाईटेक रूप देने जा रही है। ईएम बाइपास के किनारे स्थित तृणमूल भवन को संवारने का काम शुरू हो गया है। तृणमूल भवन से सामान हटाकर बगल में स्थित बहुमंजिला मकान में लाया जा रहा है। अगले महीने से वहां पार्टी का संगठनात्मक कार्य शुरू हो जाएगा।

एक एजेंसी को तृणमूल भवन से नए मकान में सामान ले जाने का काम सौंपा गया है। उस मकान में नए अस्थायी कार्यालय के निर्माण का काम चल रहा है। तृणमूल भवन का 2002 में निर्माण हुआ था। तब ममता बनर्जी तृणमूल की सांसद थीं। तृणमूल की टीम बढ़ रही है और संगठन मजबूत हो रहा है इसलिए इसे नई सुविधाओं से लैस करने की जरुरत थी। ममता बनर्जी इसी महीने यहां संगठनात्मक बैठक करने आई थीं और तृणमूल भवन के जीर्णोद्धार की जानकारी दी थी। उन्होंने कहा था कि प्रेस कांफ्रेंस के लिए जगह बहुत कम है।

सूत्रों के मुताबिक तृणमूल की हरेक शाखा के लिए अलग-अलग कमरे होंगे। पार्टी के शीर्ष नेताओं के लिए भी अलग कमरे होंगे। जिले के श्रमिकों के लिए बैठक कक्ष होगा। प्रेस कॉन्फ्रेंस रूम होगा। वर्चुअल मीटिंगरूम की भी व्यवस्था की जाएगी। सामूहिक बैठकों के लिए एक हॉल और सम्मेलन कक्ष भी होगा।

तृणमूल राज्य में तीसरी बार सत्ता में आई है। वह अब 2024 के लोकसभा चुनाव की तरफ देख रही है। तृणमूल भवन का विस्तार किया जाएगा। पुराने भवन के एक हिस्से को तोड़ा जाएगा। जुलाई से काम शुरू करने की योजना है। सामान निकालने का काम अगले चार-पांच दिनों तक जारी रहेगा। इसके बाद आगे का काम शुरू हो जाएगा। कुल मिलाकर तृणमूल अगले एक-डेढ़ साल के भीतर यह काम पूरा करना चाहती है।