लग गया सख्त Lockdown और फेल हुआ एक मिनट में E-Pass निर्गत होने का दावा; हेमंत सरकार की किरकिरी, जनता भी हलकान

झारखंड में 16 मई से सख्त लॉकडाउन लागू हो गया है। झारखंड की हेमंत सरकार ने दावा किया था कि लॉकडाउन पास एक मिनट में निर्गत होगा। लेकिन पहले ही दिन परिवहन विभाग का ई-पास निर्गत करने का सिस्टम फेल कर गया है। लोग वेबसाइट खुलते ही बंद हो जाता है। नतीजतन, ई-पास निर्गत नहीं हो रहा है। इससे एक तरफ झारखंंड सरकार की किरकिरी हो रही है तो दूसरी तरफ जनता भी परेशान-हलकान है। 

आम से लेकर खास तक के लोगों के लिए ई-पास की अनिवार्यता ने सभी को सकते में डाल दिया है। रविवार की सुबह से ही पास की खोज बिन शुरू हो गई। समस्या यह है कि पास कैसे बनवाएं सर्वर ही डाउन हो गया है। बाजार जाना है। सब्जी, राशन और कुछ जरूरी दवाईयां लेना है जाना जरूरी है। आमलोगों के लिए पास की क्या आवश्यकता है। ऐसे कई सवाल लोगों के जहन में घूम रहे हैं। जयप्रकाश नगर से कुछ लोग आम दिनों की तरह सब्जी और राशन का समान लेने निकले जैसे ही सिटी सेंटर पहुंचे वहां खड़े पुलिस ने लोगों को रोकना शुरू कर दिया। कहां जा रहे है तभी एक व्यक्ति ने कहा सब्जी लेने जा रहे हैं। पुलिस ने कहा पास है तो उस व्यक्ति ने कहा नहीं सब्जी के लिए पास की क्या जरूरत है। पुलिस और लोगों की बहसाबहसी शुरू हो गई और लोगों को फजीहत झेलनी पड़ी। यह समस्या केवल सिटी सेंटर की नहीं है बल्कि शहर के कई इलाकों में लोगों को ऐसी परेशानी हो रही है। उधर सर्वर में अचानक लोड बढ़ जाने के कारण सर्वर ही डाउन हो गया है। ई-पास बन नहीं रहा है। परिवहन विभाग की माने तो अभी तक पूरे राज्य में ढ़ाई लाख पास निर्गत हो चुका है।

झारखंड सरकार ने ई-पास अनिवार्य करने के साथ ही इसके लिए epassjharkhand.nic.in वेब पोर्टल पास के लिए आवेदन करना है।

इन्हें लेना होगा पास, 27 तक मिलेगा

- जनवितरण प्रणाली की दुकानों को सुबह छह से तीन बजे तक खोलने का मिलेगा पास

- पेट्रोल पंप संचालक, रसोई गैस संचालक को समय की बाध्यता से मुक्त रखा गया है।

- फल, सब्जी, ग्रोसरी, खाद्यय सामग्री, दुध मिठाई दुकानदार तथा खाने-पीने वाली सामग्री के विक्रेता को सुबह छह से तीन बजे तक का मिलेगा पास

- माइनिंग में काम करने वाले लोगों को लिए समय की बाध्यता नहीं है।

- कंस्ट्रक्शन से जुडे लोगों को के लिए समय की बाध्यता नहीं है।

- भवन निमार्ण से जुड़ी सामग्री विक्रेता के लिए सुबह छह से तीन बजे तक का मिलेगा पास

- कृषि से जुड़े दुकानदारों को सुबह छह से तीन बजे तक का मिलेगा पास

- गैराज व वाहन बनाने वाले मेकेनिक के लिए समय की बाध्यता नहीं होगी

- सरकारी कर्मचारियों के लिए समय की बाध्यता नहीं होगी।

- बिजली, टेलिकॉम, पानी की सप्लाई, नगर निगम सेवा के लिए समय की बाध्यता नहीं है।

- मीडिया, चिकित्सा, कुरियर, सिक्यूरिटी सर्विस के लिए समय की बाध्यता नहीं है।