वैक्‍सीन लेने के बाद CM नीतीश ने दिया बिहार में लॉकडाउन का संकेत, बोले- हर विकल्‍प पर होगा विचार

बिहार में कोरोनावायरस संक्रमण (CoronaVirus Infection) की दूसरी लहर में लगातार खराब होते हालात के बीच यह बड़ी खबर है। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के निर्देश पर 17 अप्रैल को राज्‍यपाल फागू चौहान (Fagu Chauhan) के नेतृत्‍व में आयोजित सर्वदलीय बैठक (All party Meeting) में मिले सुझावों के आधार पर परिस्थिति देखते हुए आगे का फैसला किया जाएगा। मुख्‍यमंत्री की बातों को संकेत मानें तो अगर हालात नहीं सुधरे तो सरकार कड़े कदम उठा सकती है। मुख्‍यमंत्री गुरुवार को पटना के इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्‍थान (IGIMS) में कोरोनावायरस वैक्‍सीन की दूसरी डोज लेने के बाद मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

लोगों से एहतियात बरतने की अपील, बोले- जागरूकता जरूरी

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि सरकार कोरोनावायरस जांच पर बल दे रही है। जांच को लेकर सरकार की तरफ से लगातार इंतजाम किए जा रहे हैं। इसमें लगतार वृद्धि की जा रही है। अधिक से अधिक जांच ही उपाय है। जांच एक लाख से अधिक बढ़ना शुरू हो गया है। टीकाकरण भी बढ़ रहा है। बाहर के राज्यों में काम करने वाले लौट रहे हैं तो उनकी जांच भी करायी जा रही है। केवल स्वास्थ्य  विभाग ही नहीं, बल्कि स्थिति को संभालने में पूरा प्रशासन लगा है। स्वास्थ्य विभाग लोगों से बात भी  कर रहा है। सरकार संक्रमण से बचाव तथा जांच व इलाज की तमाम कोशिशें कर रही है। उन्‍होंने लोगों से एहतियात बरतने की भी अपील की। कहा कि कोरोनावायरस से बचाव के लिए जागरूकता की बहुत जरूरत है।

संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए नहीं होगी बेड की कोई कमी

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए बेड की कोई कमी नहीं होगी। कई अस्पतालों में बेडों की संख्या बढ़ायी जा रही है। कई अन्य अस्पतालों में भी कोरोना संक्रमितों के इलाज की व्यवस्था की जा रही है। कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। कई जगहों पर ग्रामीण इलाकों में भी इसे देखा जा रहा। सरकार एक-एक चीज पर नजर रखे हुए है।

लोग अपना टीकाकरण कराएं, इससे भविष्य में होगा फायदा

मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि वे अपना टीकाकरण कराएं। इससे उन्हें भविष्य में फायदा होगा। जांच भी करानी चाहिए। वह भी नियमित रूप से अपना जांच कराते रहते हैं। लोगों के साथ काम करते रहते हैं, इसलिए जांच जरूरी है। लोगों को सचेत रहना चाहिए। मास्क का प्रयोग करें और बेवजह घर से बाहर नहीं निकलें।

जरूरत पड़ी तो लॉकडाउन या नाइट कर्फ्यू पर होगा विचार

नाइट कर्फ्यू या फिर लॉकडाउन की संभावना के संबंध में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के निर्देश पर राज्यपाल की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक में पूरी स्थिति पर चर्चा होगी। बैठक में जो सुझाव आएंगे उस पर सरकार आगे का निर्णय लेगी। अगर स्थिति और अधिक बिगड़ी तो जो करना है वह किया जाएगा।

17 अप्रैल को राज्यपाल फागू चौहान की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक होने वाली है। बैठक में सभी राजनीतिक दलों के सुझावों और राज्‍य में कोरोना संक्रमण की स्थिति को देखते हुए आगे का फैसला लिया जाएगा। सरकार हर विकल्‍प पर विचार कर रही है और इसके लिए हर मोर्चे पर तैयारी की गई है।