देश में लगातार चौथे दिन मिले तीन लाख से ज्यादा मामले, महाराष्‍ट्र में सबसे ज्‍यादा मौतें, बेहाल हुई दिल्‍ली

देश में कोरोना महामारी की स्थिति लगातार गंभीर होती जा रही है। संक्रमितों की संख्या रोज रिकार्ड तोड़ रही है। शनिवार को रिकार्ड 3,46,786 नए केस मिले। यह लगातार चौथा दिन है, जब तीन लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। एक दिन में 3,46,786 नए मामले सामने आने के साथ संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 1,66,10,481 पर पहुंच गए, जबकि सक्रिय मामलों की संख्या 25 लाख से अधिक हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक एक दिन में 2,624 संक्रमितों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 1,89,544 हो गई है।

क्‍या कहते हैं ताजा आंकड़े 

कोविड19इंडिया ओआरजी की तरफ से शनिवार देर रात तक मिले आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटे में 3,43,696 नए मामले मिले हैं। इस दौरान 2,650 लोगों की जान भी गई है और 2,12,727 लोग संक्रमण मुक्त भी हुए हैं। यह लगातार दूसरा दिन है, जब दो लाख से ज्यादा लोग ठीक हुए हैं। इसके साथ ही कुल संक्रमितों का आंकड़ा एक करोड़ 69 लाख से ज्यादा हो गया है। इनमें से एक करोड़ 40 लाख 75 हजार से ज्यादा मरीज पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं और 1,92,199 लोगों की जान भी जा चुकी है। सक्रिय मामले बढ़कर 26,72,174 हो गए हैं। 

महाराष्ट्र में 773 और दिल्ली में 348 की गई जान

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 773 मरीजों की मौत हुई। इसके बाद दिल्ली का नंबर रहा जहां 348 मरीजों की जान गई। देश में सक्रिय मामलों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है और फिलहाल यह आंकड़ा 25,52,940 है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 15.37 प्रतिशत है। संक्रमण से उबरने वाले लोगों की दर और गिर गई है और यह 83.49 प्रतिशत है।

इन 12 राज्‍यों ने बढ़ाई चिंता 

मंत्रालय की ओर से जारी आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, नई दिल्ली, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, केरल, गुजरात, तमिलनाडु, राजस्थान, बिहार और पश्चिम बंगाल समेत 12 राज्यों में संक्रमण के दैनिक मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है।

74.15 फीसद केस इन राज्‍यों में 

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि देश में संक्रमण के कुल मामलों में से 74.15 फीसद केस महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात और राजस्थान से हैं। यही नहीं उपचाराधीन 66.66 फीसद मरीज महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, राजस्थान, गुजरात और केरल से हैं।

..और गिरी रिकवरी रेट 

चिंताजनक बात यह है कि संक्रमण के खिलाफ रिकवरी रेट और गिर गई है। मौजूदा वक्‍त में यह 83.49 फीसदी है। देश में अब तक 1,38,67,997 लोग संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। देश में कोरोना संक्रमण के चलते बिगड़े हालात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अस्‍पतालों में गंभीर मरीजों के लिए बेड्स की कमी पड़ गई है। 

राज्‍यों पर एक नजर 

बीते 24 घंटे में छत्तीसगढ़ में 219, यूपी में 196, गुजरात में 142, कर्नाटक में 190, तमिलनाडु में 78 और पंजाब में 75 लोगों की मौत कोरोना महामारी से हुई। देश में अब तक सबसे ज्यादा 63,252 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुई हैं। कर्नाटक में 14,075, तमिलनाडु में 13,395, दिल्ली में 13,541, पश्चिम बंगाल में 10,825, उत्तर प्रदेश में 10,737, पंजाब में 8,264 और आंध्र प्रदेश में 7,579 लोगों की मौत महामारी से हुई है।  

एक दिन में 17,53,569 नमूनों की जांच 

आइसीएमआर के मुताबिक, 23 अप्रैल तक 27,61,99,222 नमूनों की कोरोना जांच की गई जिनमें से 17,53,569 नमूनों की शुक्रवार को जांच की गई। देश में सक्रिय मामलों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है और फिलहाल यह आंकड़ा 25,52,940 है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 15.37 प्रतिशत है। 

दिल्‍ली में हालात खराब 

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में भी कोरोना संकट के चलते हालात बेहद खराब हैं। दिल्‍ली के कई अस्‍पतालों को ऑक्‍सीजन की किल्‍लत का सामना करना पड़ रहा है। आलम यह है कि ऑक्सीजन के अभाव में मरीजों की मौतें हो रही हैं। दिल्ली के जयपुर गोल्डन अस्पताल में ऑक्‍सीजन की कमी के चलते 20 मरीजों की मौत होने की खबर है। दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मामले में सुनवाई पर कहा है कि केंद्र राज्य या स्थानीय प्रशासन का कोई अधिकारी यदि ऑक्सीजन की आपूर्ति में बाधा डालता है तो हम उसे लटका देंगे।