'जल शक्ति अभियान' की शुरुआत करेंगे प्रधानमंत्री मोदी, वर्षा के जल को बचाने का है मकसद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) सोमवार को विश्व  जल दिवस (World Water Day) के मौके पर एक अभियान- 'जल शक्ति अभियान'  की शुरुआत करने जा रहे हैं। इस क्रम में आज दोपहर 12.30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री अभियान को लॉन्च करेंगे। प्रधानमंत्री कार्यालय  (PMO) से जारी किए गए बयान के अनुसार, 22 मार्च को विश्व जल दिवस के मौके पर देश भर में यह अभियान शुरू होने जा रहा है। देश के सभी शहरी व ग्रामीण इलाकों में शुरू होने वाले इस अभियान का थीम 'catch the rain, where it falls, when it falls' है। इसके तहत वर्षा के पानी को बचाने का लक्ष्य है। यह अभियान 22 मार्च से 30 नवंबर तक चलेगा जो देश में मानसून शुरू होने से पहले और पूरा मानसून का मौसम कवर करेगा। इस मुहिम की शुरुआत जन आंदोलन के तौर पर की जाएगी ताकि जमीनी स्तर पर लोग इसमें शामिल हो पानी बचा सकें। 

इस प्रोजेक्ट से सबसे अधिक फायदा उन क्षेत्रों को मिलेगा जहां पानी की कमी से जनजीवन प्रभावित है। ये क्षेत्र हैं मध्यप्रदेश का  बुंदेलखंड (Bundelkhand), पन्ना (Panna), टिकमगढ़ (Tikamgarh), छतरपुर (Chhatarpur), सागर (Sagar), दामोह (Damoh), दतिया (Datia), विदिशा (Vidisha), शिवपुरी (Shivpuri) और रायसेन (Raisen) वहीं उत्तर प्रदेश का बांदा (Banda), महोबा (Mahoba), झांसी (Jhansi), ललितपुर (Lalitpur))। 

ADVERTISEMENT