बंगाल में तृणमूल के नेता व विधायक कोविड वैक्सीन चुरा कर लगवा रहे हैं : भारती घोष

बंगाल भाजपा की उपाध्यक्ष व पूर्व आइपीएस अधिकारी भारती घोष ने सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के नेताओं द्वारा कोविड वैक्सीन लगवा लिए जाने के मुद्दे पर घेरते हुए करारा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि पहले चरण में फ्रंटलाइन कोरोना योद्धाओं यानी स्वास्थ्य कर्मियों के लिए भेजे गए कोविड वैक्सीन को बंगाल में चुरा कर तृणमूल के नेता व विधायक लगा ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि पहले कोविड-19 को लेकर राजनीति करने वाली ममता बनर्जी अब कोविड वैक्सीन को लेकर भी राजनीति कर रही हैं। 

पहले कोविड-19 के मामले छुपाने की कोशिश की। केंद्रीय टीम के साथ बदसलूकी की। एम्फन को लेकर जो केंद्र से सहायता राशि आई उसको लेकर राजनीति की। अब कोविड वैक्सीन को लेकर राजनीति कर रही हैं। ममता बनर्जी की सरकार में जन्म से लेकर मृत्यु तक हर कार्य में लोगों से कटमनी वसूली जाती है। ऐसी सरकार दुनिया में कहीं नहीं मिलेगी। ये बातें उन्होंने रविवार को कोलकाता के नारकेल डांगा में आयोजित रक्तदान शिविर में कहीं। 

तृणमूल कांग्रेस की ओर से केंद्र सरकार पर राज्य को काफी कम कोविड वैक्सीन मुहैया कराए जाने के आरोपों पर पूर्व आइपीएस अधिकारी भारती घोष ने कहा कि शुरुआत में देश में कोरोना के खिलाफ अग्रिम मोर्चे पर लड़ रहे डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों को वैक्सीन मिलना है। केंद्र सरकार ने सभी राज्यों में इसका बंटवारा कर दिया है, जो राज्य को उचित मिलना है, वह मिलेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी एक तरफ कह रहीं हैं कि वैक्सीन कम मिलीं हैं और दूसरी तरफ पूर्व बर्दमान जिले में जिन स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन मिलनी थी, जो लाइन देकर खड़े थे, उनको वैक्सीन नहीं दी गई, बल्कि तृणमूल कांग्रेस के विधायक को वैक्सीन दे दी गई। 

29 महिला स्वास्थ्यकर्मियों को वापस भेज दिया गया, जिनको वैक्सीन मिलना था। लाइन में खड़े कोविड से लड़ाई में फ्रंटलाइनर्स, कोरोना वारियर्स को वैक्सीन नहीं देकर सत्तारूढ़ दल के विधायक व नेता लोग आगे आकर वैक्सीन ले रहे हैं। उन्होंने साफ कहा कि अब ममता बनर्जी सरकार वैक्सीन की चोरी कर रही है। गौरतलब है कि पूर्व आइपीएस भारती घोष तृणमूल कांग्रेस व ममता बनर्जी के खिलाफ लगातार हमलावर हैं।

ADVERTISEMENT