बेहतर कार्य करने वाले कर्मचारी 26 जनवरी को होंगे पुरस्कृत: वरीय डाक अधीक्षक

-25 से 30 जनवरी तक बच्चियों के भविष्य के लिए सुकन्या ड्राइव 59 डाकघरों एवं 400 शाखा डाकघरों में कैंप लगाकर शुरू कर रहा है।

-वरीय डाक अधीक्षक ने कहा सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को घर घर पहुंचाने के लिए कृत्संकलपित है 

युवा शक्ति संवाददाता 
--------------------------
गया। डाक विभाग को घर का बैंक , घर का सम्मान एवं अपना घरौंदा भी कहा जाय तो भी कम ही है । यह जिस तरह से हमसे जुड़ी है लगता है जैसे कोई घर का एक सदस्य है।डाक विभाग समाज के सभी वर्गों को ध्यान में रखकर योजनाएं संचालित करती है । चाहे अमीर हो या गरीब, पुरुष हो या महिला, बुजुर्ग हो या बच्चे सभी किसी न किसी रूप में डाकघर से अवश्य जुड़े है।आज डाकघर तकनीकी युग में नए कलेवर के साथ सेवोत्तम सेवा, सिटिज़न चार्टर को ध्यान में रखते हुए ट्वरित गति से सेवा प्रदान कर रही है। सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को घर घर पहुंचाने के लिए कृत्संकलपित है।उक्त बातें शनिवार को गया प्रमंडल के वरीय डाक अधीक्षक रंजय कुमार सिंह ने कहा।उन्होंने बताया कि डाकघर आज हर घर एवं प्रत्येक व्यक्ति को किसी न किसी रूप में डाकघर से जोड़ने का प्रयास कर रही है । आज गया प्रमंडल डाक घर की योजनाएं एवं सरकार की योजनाएं आम जन तक पहुंचाने में बिहार एवं देश में महत्वपूर्ण स्थान रखती है।
आगे उन्होंने बताया कि जो बीड़ा डाकघर ने उठाया है यह कार्य पारिश्रमिक एवं सहयोगी कर्मचारीयो के आपसी सहयोग, तत्परता पूर्वक कर्तवयनिष्ठता का अनुपालन एवं सत्यनिष्ठा से अपने उत्तदायित्व का निर्वहन से ही संभव हो रहा है। इसलिए विभाग ने वैसे उत्कृष्ट सेवा देने वाले कर्मचारियों जैसे आनंद स्वरूप , दीपक कुमार सिस्टम एडमिन, चितरंजन कुमार सिंह, आदित्य कुमार, राहुल कुमार, सुधांशु कुमार आदि को अपने समर्पित सेवा के लिए 26 जनवरी को पुरस्कृत करने का फैसला किया है।

वहीं उन्होंने बताया कि डाकघर विशेषतः 25 से 30 जनवरी तक बच्चियों के उज्जवल, सुखद एवं कल्याणकारी भविष्य के लिए सुकन्या ड्राइव अपने 59 डाकघरों एवं 400 शाखा डाकघरों में कैंप लगाकर शुरू कर रहा है। इस अवसर का लाभ प्रत्येक गया वासियों को उठाने के लिए डाकघर आग्रह करता है एवं सभी से निवेदन करता है कि एक खाता अपने बच्ची के नाम को जरूर दे।साथ ही जो भी डाक कर्मी इस ड्राइव में बेहतर कार्य करेंगे उन्हें भी पुरस्कृत किया जाएगा।

ADVERTISEMENT