यूपी समेत 7 राज्यों में बर्ड फ्लू की दस्तक, कानपुर चिड़ियाघर सील, दिल्ली में भी हाई अलर्ट

कोरोना से जूझते भारत में अब परिदों की मौतों से दहशत बढ़ती जा रही है. देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू (Bird Flu) ने दस्तक दे दी है. हिमाचल से केरल और गुजरात से महाराष्ट्र तक कई राज्यों से पक्षियों (Birds) के मरने की खबरें आ रही हैं. हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, केरल और उत्तर प्रदेश ये वो सात राज्य हैं, जहां बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है. वहीं, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र समेत कई अन्य राज्यों में पक्षियों के सैंपल जांच के लिए लैब में भेजे गए हैं.

बर्ड फ्लू वायरस मिलने के बाद कानपुर चिड़ियाघर सील

कानपुर चिड़ियाघर को बर्ड फ्लू वायरस मिलने के बाद सील कर दिया गया है. चार पक्षियों की मौत की जांच रिपोर्ट में बर्ड फ्लू (Bird Flu) की पुष्टि हुई है. कानपुर कमिश्नर राजशेखर के आदेश पर चिड़ियाघर के आस-पास के इलाके को रेड जोन घोषित किया गया है. प्रशासन के साथ इलाके के निवासी भी अलर्ट हो गए हैं.

इसके अलावा जिस बाड़े के पक्षियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई उसके अन्य पक्षियों को भी चिड़ियाघर प्रशासन ने मारने का आदेश दिया है. बता दें कि कानपुर चिड़ियाघर में दो दिनों में दस पक्षियों की मौत हुई थी. जिनमें चार की जांच के सैंपल भोला लेबोरेटरी भेजे गए थे. जहां से रिपोर्ट में चारों में बर्ड फ्लू (Bird Flu) के लक्षण पाए गए हैं.

दिल्ली में बर्ड फ्लू का अलर्ट

दिल्ली अभी कोरोना की मार से संभली भी नहीं थी कि बर्ड फ्लू की दहशत फैल गई है. हालांकि, दिल्ली में बर्ड फ्लू की पुष्टि तो नहीं हुई लेकिन राजधानी के अलग-अलग इलाकों में लगातार मरते हुए पक्षी चिंता बढ़ा रहे हैं. दिल्ली के एक पार्क में 17 कौवों की मौत हो गई है जबकि द्वारका में डीडीए पार्क में 2 कौओं की मौत हुई. वहीं, दिल्ली के संजय झील में 10 बतखों की मौत तथा  मयूर विहार फेज-3 के एक पार्क में तीन-चार दिनों से रोज मरे हुए कौए मिल रहे हैं. 

एक्शन में दिल्ली सरकार, गाजीपुर पॉल्ट्री फॉर्म बंद 

दिल्ली सरकार ने बर्ड फ्लू के खतरे को देखते हुए तैयारियां भी तेज कर दी हैं. मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बताया कि गाजीपुर पॉल्ट्री फॉर्म 10 दिन के लिए बंद कर दिया गया है. जबकि जिंदा पक्षियों के आयात पर फिलहाल रोक लगा दी गई है. दिल्ली के हर जिले में निगरानी के लिए सर्विलांस टीम बना दी गई है. पशुओं के डॉक्टर लगातार सर्वे कर रहे हैं. संजय झील, भलस्वा झील और पॉल्ट्री मार्केट की निगरानी हो रही है. बता दें कि मरे हुए पक्षियों की जानकारी देने के लिए हेल्पलाइन नंबर 23890318 भी जारी कर दिया गया है.

हिमाचल में 3500 पक्षियों को मारा गया

हिमाचल प्रदेश के पोंग इलाके में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद हड़कंप है. यहां हर साल प्रवासी पक्षी आते हैं. बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद यहां 3500 प्रवासी पक्षियों को मार दिया गया है. सरकार चौकन्नी है और राज्य में अलर्ट जारी है. इसके अलावा कांगड़ा में भी बर्ड फ्लू का खतरा लगातार बढ़ रहा है. कौओं की मौत के बाद 5 सैंपल जालंधर भेजे गए थे, जिसमें से 3 पॉजिटिव पाए गए हैं. इसके बाद 8 किलोमीटर इलाके को सील कर दिया गया. साथ ही चिकन और अंडा बेचने पर रोक लगा दी गई है.

पुंछ के पॉल्ट्री फॉर्म में भी सावधानी का अलर्ट

बर्ड फ्लू के बढ़ते मामलों से पहाड़ों पर भी अलर्ट जारी कर दिया गया है. जम्मू-कश्मीर के पुंछ में पशुपालन विभाग ने पॉल्ट्री फॉर्म को सावधानी बरतने को कहा है. पार्कों में साफ-सफाई का खास ध्यान रखा जा रहा है.  

बर्ड फ्लू की चपेट में राजस्थान के 11 जिले

राजस्थान के 11 जिले बर्ड फ्लू (Bird Flu) की चपेट में हैं. इनमें सवाई माधोपुर, पाली, दौसा और जैसलमेर भी शामिल हैं. सवाई माधोपुर में मरे कौओं में बर्ड फ्लू का एच 5 स्ट्रेन मिला है. जिले में अब तक 70 परिंदों की मौत हो चुकी है, जिनमें कौओं सहित मोर भी शामिल हैं. सवाई माधोपुर में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने से रणथंभौर वन प्रशासन अलर्ट है. पार्क क्षेत्र में परिंदों की मॉनिटरिंग के लिए टीमें गाठित की गई हैं, जो लगातार पक्षियों की बिट के सैंपल ले रही हैं.

ADVERTISEMENT