दार्जिलिंग राष्ट्रीय राजमार्ग पर गाड़ी से कुचलकर तेंदुए की मौत, स्थानीय लोगों ने की वाहनों की स्पीड कम करने की मांग



किसी अज्ञात गाड़ी से कुचल कर एक तेंदुए की मौत हो गई। यह घटना सिलीगुड़ी से दार्जिलिंग की ओर जाने वाली राष्ट्रीय राजमार्ग 55 पर सुकना के निकट हुई है।  मिली जानकारी के अनुसार आज बुधवार सुबह जब वह रूट पर गाड़ियों की आवाजाही शुरू हुई तो सड़क के किनारे बुरी तरह से कुचले हुए एक तेंदुए का शव देखा गया।  इसकी सूचना वन विभाग के साथ-साथ पुलिस को भी दी गई। 

 खबर मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। वन विभाग की टीम ने तेंदुए के शव को अपने कब्जे में ले लिया है।  किस गाड़ी से यह दुर्घटना हुई है इसका पता नहीं चल सका है। वन विभाग का कहना है कि यह दुर्घटना संभावतः सुबह हुई होगी।  करीब 6:30 बजे वन विभाग को फोन पर तेंदुए के मरने की जानकारी दी गई। उसके बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची एवं तेंदुए के शव को बरामद किया।  तेंदुए की उम्र करीब 1 साल बताई जा रही है। 

वन विभाग का कहना है कि तेंदुआ जंगल से निकलकर सड़क पर आ गया होगा। यह काफी छोटा है। इसी दौरान किसी गाड़ी से कुचल कर तेंदुए की मौत हो गई होगी। किस गाड़ी से यह दुर्घटना हुई है इसका कोई पता नहीं चल सका है। विभाग इस मामले की जांच कर रही है। 

स्थानीय लोगों का कहना है कि जंगली इलाका होने के बाद भी इस राजमार्ग पर वाहनों की गति काफी तेज होती है। जिसके कारण छोटी बड़ी दुर्घटना तो होती ही रहती है साथ ही जंगली जानवर भी मारे जाते हैं। स्थानीय लोगों ने इस रूट पर वाहनों की गति नियंत्रित करने की मांग की है। उनका कहना है कि जब तक गाड़ियों की स्पीड कम नहीं होगी तब तक दुर्घटनाओं को रोकने में सफलता नहीं मिलेगी। वन विभाग उस गाड़ी का पता करने में जुटी हुई है जिससे कुचलकर तेंदुए की मौत हुई है। 


ADVERTISEMENT