बोहरा समुदाय के हुसैन बुरहानुद्दीन ने की पीएम मोदी से मुलाकात


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दाऊदी बोहरा समुदाय के शहजादा हुसैन बुरहानुद्दीन से मुलाकात की. पीएम मोदी ने खुद इस मुलाकात की जानकारी दी और बताया कि हुसैन बुरहानुद्दीन ने बोहरा समुदाय द्वारा समाज की सेवा में किए जा रहे सराहनीय कार्यों के बारे में बात की. 

पीएम मोदी ने सोमवार को हुई इस मुलाकात का फोटो भी अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया. बता दें कि शहजादा हुसैन बुरहानुद्दीन दाऊदी बोहरा समुदाय के मौजूदा सर्वोच्च धर्मगुरू सैय्यदना मुफद्दल सैफुद्दीन के तीसरे बेटे हैं. सैय्यदना मुफद्दिल सैफुद्दीन दाऊदी बोहरा समुदाय के 53वें धर्मगुरू हैं. 

सैय्यदना सैफुद्दीन वही धर्मगुरू हैं, जिनसे 2018 में पीएम नरेंद्र मोदी ने इंदौर जाकर मुलाकात की थी और उनके सामने हाथ जोड़कर आशीर्वाद लिया था. तत्कालीन शिवराज सिंह सरकार ने सैय्यदना सैफुद्दीन को राजकीय अतिथि का दर्जा दिया था. एक बड़े कार्यक्रम में पीएम मोदी और सीएम शिवराज सिंह दोनों ही शामिल हुए थे.

इंदौर की सैफी मस्जिद में आयोजित कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा था कि बोहरा समुदाय और उसकी राष्ट्रभक्ति की अहम भूमिका रही है. मोदी ने कहा था कि बोहरा समुदाय सभी को साथ लेकर चलता है. पीएम मोदी ने यहां तक कहा था कि देश के लिए कैसे जिया जाता है यह बोहरा समुदाय ने सिखाया.

बता दें कि बोहरा समुदाय के मुसलमानों की संख्या भारत में काफी कम है. हालांकि, आर्थिक और सामाजिक तौर पर ये समुदाय काफी विकसित है. बोहरा समुदाय में आध्यात्मिक गुरुओं की परंपरा दशकों से चली आ रही है. जो धर्मगुरू समुदाय का नेतृत्व करते हैं वो दाई-अल-मुतलक सैय्यदना कहलाते हैं. 



ADVERTISEMENT