मन की बात में पीएम मोदी की अपील- सावधानी से मनाएं त्योहार, Vocal for Local का संकल्प याद रखें


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया। मन की बात कार्यक्रम का यह 70वां संस्करण रहा। पीएम मोदी ने आज अपने संबोधन में देशवासियों को विजयादशमी की शुभकामनाएं दी। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से सावधानी से त्योहार मनाने की भी अपील की। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से Vocal for Local को बढ़ावा देने का संकल्प लेने की अपील की। इस दौरान पीएम ने लोगों से देश के वीर जवानों के लिए घर में एक दीया जलाने की भी अपील की। आइए जाने प्रधानमंत्री ने आज क्या कहा...

देशवासियों को दी दशहरे की शुभकामनाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधन की शुरुआत दशहरे की शुभकामनाओं से की।पीएम मोदी ने आज अपने संबोधन में देशवासियों को विजयादशमी की शुभकामनाएं दी। उन्होंने सावधानी से त्योहार मनाने की बात कही।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आज विजयादशमी यानि दशहरे का पर्व है। इस पावन अवसर पर आप सभी को पर्व की शुभकामनाएं। उन्होंने कहा कि दशहरा संकटों पर धैर्य की जीत का त्योहार है। आज आप सभी लोग संयम के साथ त्योहारों को मनाते हुए बड़े संयम के साथ रह रहे हैं। इसलिए COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में, हम लड़ रहे हैं, जीत निश्चित है।

'Vocal for Local' को बढ़ावा देने का संकल्प लें'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जब हम त्योहार की बात करते हैं, तैयारी करते हैं, तो सबसे पहले मन में यही आता है कि बाजार कब जाना है? उन्होंने कहा कि इस बार जब आप खरीदारी करने जाएं तो 'Vocal for Local' का अपना संकल्प अवश्य याद रखें। बाजार से सामान खरीदते समय हमें स्थानीय उत्पादों को प्राथमिकता देनी है। उन्होंने कहा कि आज जब हम Local के लिए Vocal हो रहे हैं तो दुनिया भी हमारे Local products की fan हो रही है। हमारे कई Local products में Global होने की बहुत बड़ी शक्ति है।


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि लॉकडाउन में हमने समाज के उन साथियों को और करीब से जाना है जिनके बिना हमारा जीवन बहुत मुश्किल हो जाता। कठिन समय में ये आपके साथ थे, अब अपने पर्वों में अपनी खुशियेां में भी हमें इनको साथ रखना है।

सैनिकों के लिए घर में एक दीया जलाने की अपील

पीएम मोदी ने लोगों से देश के वीर सैनिकों के लिए घर में एक दीया जलाने की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने वीर जवानों को याद किया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमें अपने जांबाज सैनिकों को भी याद रखना है, जो इन त्योहारों में भी सीमाओं पर डटे हैं। भारत माता की सेवा और सुरक्षा कर रहे हैं। हमें घर में एक दीया, भारत माता के वीर बेटे-बेटियों के सम्मान में भी जलाना चाहिए।

खादी के महत्व को समझाया

प्रधानमंत्री मोदी ने मन की बात के दौरान खादी को लेकर भी बात की। उन्होंने कहा कि खादी की लोकप्रियता तो बढ़ ही रही है साथ ही दुनिया में कई जगह खादी बनाई भी जा रही है। मेक्सिको में एक जगह है 'ओहाका (Oaxaca)'। इस इलाके में कई गांव ऐसे हैं जहां स्थानीय ग्रामीण खादी बुनने का काम करते हैं। प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि दिल्ली के Connaught Place के खादी स्टोर में इस बार गांधी जयंती पर एक ही दिन में एक करोड़ रुपये से ज्यादा की खरीदारी हुई। इसी तरह कोरोना के समय में खादी के मास्क भी बहुत popular हो रहे हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब हमें अपनी चीजों पर गर्व होता है तो दुनिया में भी उनके प्रति जिज्ञासा बढ़ती है। जैसे हमारे आध्यात्म ने, योग ने पूरी दुनिया को आकर्षित किया है। हमारे कई खेल भी दुनिया को आकर्षित कर रहे हैं।

सरदार पटेल को किया याद

मन की बात के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने सरदार पटेल को भी याद किया। उन्होंने कहा कि कुछ ही दिनों बाद सरदार वल्लभ भाई पटेल जी की जन्म जयंती, 31 अक्टूबर को हम सब 'राष्ट्र्रीय एकता दिवस' के तौर पर मनाएंगे। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने अपना पूरा जीवन एकजुटता के लिए समर्पित कर दिया। वे विविधता में एकता का मंत्र हर भारतीय के मन में जगाने वाले थे। 


ADVERTISEMENT