दिल्ली दंगा: चार्जशीट में येचुरी, योगेंद्र यादव, अपूर्वानंद जैसे बड़े नाम, साजिश रचने का है आरोप


दिल्ली दंगे से जुड़े मामले में दिल्ली पुलिस की हाल ही में दाखिल की गई एडिशनल चार्जशीट में कई और बड़े लोगों के नाम सामने आए हैं. दिल्ली पुलिस की चार्जशीट में जिनके नाम शामिल किए गए हैं वो हैं सीताराम येचुरी, योगेंद्र यादव, जयति घोष, अपूर्वानंद और राहुल रॉय. इन सभी को दिल्ली में इस साल हुए दिल्ली दंगो के मामले में सह-षड्यंत्रकारी बनाया गया है. इन सभी पर सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों से किसी भी चरम पर जाने, और सीएए के अलावा एनआरसी को मुस्लिम विरोधी बताकर समुदाय में असंतोष फैलाने और भारत सरकार की छवि खराब करने के लिए प्रदर्शन आयोजित करने का आरोप लगाया गया है.

दिल्ली पुलिस ने सीपीआई (एम) के महासचिव सीताराम येचुरी, स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव, अर्थशास्त्री जयति घोष, दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और कार्यकर्ता अपूर्वानंद, और वृत्तचित्र फिल्म निर्माता राहुल रॉय को फरवरी के दिल्ली दंगों में सह-साजिशकर्ता के तौर पर कोर्ट में दाखिल की गई अपनी एडिशनल चार्जशीट में आरोपित किया है. अपने-अपने क्षेत्र के इन प्रतिष्ठित व्यक्तित्वों को तीन महिला छात्राओं जिसमें पिंजरा तोड़ के सदस्य और जेएनयू की छात्रा देवांगना कलिता और नताशा नरवाल, जामिया मिल्लिया इस्लामिया की गुलफिशा फातिमा के इकबालिया को बयान के आधार पर आरोपी बनाया गया है.

दिल्ली दंगों के मामले में इन तीनों छात्राओं पर गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत आरोप लगाए जा रहे हैं, जिसमें कोर्ट में ट्रायल चल रहा है. 23 फरवरी से 26 फरवरी के बीच नॉर्थ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के दंगों पर पुलिस द्वारा दायर की गई एक सप्लीमेंट्री चार्जशीट में ये नाम सामने आए हैं, जिसमें 53 लोगों की मौत हो गई थी और 581 लोग घायल हुए थे जिनमें से 97 पीड़ितों को बंदूक की गोली के घाव भी लगे. 

आप विधायक अमानतुल्ला खान का नाम भी शामिल

चार्जशीट के मुताबिक देवांगना कलिता ने अपने दिए बयान में कहा है कि उमर ख़ालिद के कहने पर ही दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में पिंजरा तोड़ के सदस्यों ने एनआरसी और सीएए के विरोध में प्रदर्शन किए. इन प्रदर्शनों में उमर खालिद की यूनाइटेड अगेंस्ट हेट ग्रुप और जामिया कोऑर्डिनेशन कमेटी भी पिंजरा तोड़ के सदस्यों के साथ प्रदर्शन में शामिल थी.

हालिया दाखिल की गई चार्जशीट में दावा किया गया है कि येचुरी और योगेंद्र यादव के अलावा, फातिमा के बयान में भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर, यूनाइटेड अगेंस्ट हेट कार्यकर्ता उमर खालिद और मुस्लिम समुदाय के कुछ नेताओं जैसे पूर्व-विधायक मतीन अहमद, और विधायक अमानतुल्ला खान का उल्लेख है. चार्जशीट में येचुरी और योगेंद्र यादव के अलावा, भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर, यूनाइटेड अगेंस्ट हेट ग्रुप कार्यकर्ता उमर खालिद और मुस्लिम समुदाय के कुछ नेताओं जैसे पूर्व-विधायक मतीन अहमद, और विधायक अमानतुल्ला खान का नाम भी शामिल है.

दिल्ली पुलिस ने पिंजरा तोड़ की 2 सदस्य छात्राओं के उस बयान को अपनी चार्जशीट का हिस्सा बनाया है जिसमें उन्होंने बताया है कि जाफराबाद में चक्का जाम करने या फेल दिसंबर में दरियागंज में प्रदर्शन करने के लिए अपूर्वानंद राहुल रॉय और जयति घोष ने उन्हें किसी भी हद तक जाने को कहा. चार्जशीट में शामिल किए गए छात्राओं ने अपने बयान में कहा है कि उमर खालिद, चंद्रशेखर रावण, योगेंद्र यादव, सीताराम येचुरी, और वकील महमूद प्राचा ने इस भीड़ को भड़काने और लामबंद करने का काम किया.

ADVERTISEMENT