Bihar Unlock 4.0: बिहार में 22 सितंबर को हाेगा स्कूलों व कॉलेजों के खोलने पर निर्णय

Bihar Unlock 4.0:  कोरोना संकट के चलते 14 मार्च से प्रदेश के शैक्षणिक संस्थान बंद हैं। सरकारी व निजी स्कूलों और अन्‍य शैक्षणिक संस्‍थानों को खोलने पर अहम फैसला लेने हेतु शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने मंगलवार को एक उच्चस्तरीय बैठक बुलाई है। प्रधान सचिव संजय कुमार ने रविवार को बताया कि स्कूलों में पढऩे वाले बच्चों की सुरक्षा पहली प्राथमिकता है। केंद्र सरकार के दिशा-निर्देश के आलोक में ही सभी स्कूलों के खोलने पर फैसला लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि यदि स्कूलों के खोलने पर कोई निर्णय होगा तो उसमें यह ध्यान रखा जाएगा कि बच्चों को हर स्तर पर सुरक्षा कैसे प्रदान की जाए। स्कूलों के खोलने से पहले शिक्षा विभाग की ओर से राज्य के सभी सरकारी एवं निजी स्कूलों के संचालन के लिए महत्वपूर्ण गाइडलाइन भी जारी किया जाएगा। सभी को गाइडलाइन का सौ फीसद अनुपालन सुनिश्चित करना होगा।

ये होंगे बैठक में शामिल

मंगलवार को होने वाली बैठक में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद के राज्य परियोजना निदेशक संजय सिंह, प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ.रणजीत कुमार सिंह, माध्यमिक शिक्षा निदेशक गिरिवर दयाल सिंह, उच्च शिक्षा निदेशक डॉ.रेखा कुमारी के अलावा जन शिक्षा निदेशक और शोध एवं प्रशिक्षण के निदेशक शामिल होंगे।

पहले खुलना था 21 सितंबर से, फिलहाल टला फैसला

बता दें कि बिहार में अनलॉक-4  के तहत  21 सितंबर से स्‍कूल और कॉलेजों को खोलने की बात कही जा रही थी। अब इसपर फैसला मंगलवार को लिया जाएगा। उसके बाद यदि शैक्षणिक संस्‍थानों को खोलने की रियायत मिली तो भी पहले केवल नौवीं से लेकर 12वीं तक के ही बच्चे स्कूल जा सकेंगे। इसके लिए उनके अभिभावक की सहमति भी जरूरी होगी। स्कूल में फिलहाल सामान्य कक्षाओं का संचालन नहीं होगा। छात्र चाहें तो स्कूल जाकर शिक्षक से मिलकर अपनी जिज्ञासा का समाधान कर सकते हैं। स्कूल प्रबंध्न छात्रों को आने के लिए बाध्य नहीं करेंगे। फिलहाल कोई प्रार्थना सभा भी नहीं होगी।

छात्रों और शिक्षकों का समय निर्धारित होगा

सीबीएसई के सिटी कोऑर्डिनेटर डॉ. राजीव रंजन सिन्हा का कहना है कि केंद्र सरकार के निर्देश के अनुसार स्कूल आने वाले बच्चों की शंका दूर करने की हर संभव कोशिश की जाएगी। विद्यार्थियों के साथ ही हर शिक्षक के लिए समय निर्धारित किया जाएगा। निर्धारित समय पर ही छात्र आकर अपनी शंका का समाधान शिक्षकों से पूछ सकते हैं। सामान्य क्लास चलाने में अभी समय लगेगा।

महिला कॉलेजों में नहीं खुलेगा कैंटीन और जिम

मगध महिला कॉलेज की प्राचार्य प्रो. शशि शर्मा के अनुसार कोरोना के संक्रमण को देखते हुए कॉलेज की कैंटीन और जिम को अभी बंद रखने का आदेश दिया गया है। छात्राओं को भीड़ लगाकर बात करने से मनाही होगी। कॉलेज परिसर में शारीरिक दूरी का पालन करना होगा। छात्राओं को क्लास में भी  दूरी बना कर ही बैठना होगा। कॉलेज खुलने के बाद छात्राओं को उनके रोल नंबर के अनुसार बारी-बारी से बुलाने की योजना पर विचार चल रहा है।


ADVERTISEMENT