बंगाल में 1 लाख तक पहुंचा कोरोना मरीजों का आंकड़ा, 2149 लोगों की मौत


पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. पूरे प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या 1 लाख तक पहुंच गई है. पिछले 24 घंटे में 2931 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं. प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी है.

कोरोना का यह आंकड़ा तब सामने आया है जब प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने देश में कोविड की स्थिति को गंभीर लेकिन स्थिर बताया है. प्रधानमंत्री के साथ बैठक में ममता बनर्जी ने कहा कि देश में कोरोना की हालत गंभीर जरूर है लेकिन स्थिर है. कई प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बात की थी.

बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 49 लोगों की मौत हुई है. इसी के साथ मंगलवार को प्रदेश में कुल मौतों का आंकड़ा 2149 पर पहुंच गया. बंगाल में फिलहाल 25846 एक्टिव केस हैं और मरीजों की डिस्चार्ज रेट 71.39 फीसदी है. ममता बनर्जी ने कोरोना के खिलाफ जंग में केंद्र सरकार से मदद का आह्वान किया और सरकार से ज्यादा वेंटिलेटर्स और नेजल केन्युला मुहैया कराने की मांग की. ममता ने यह कहा कि कोविड-19 वैक्सीन कैसे मिलेगी, सरकार इसके लिए दिशा-निर्देश जारी करे.

बंगाल सरकार के स्वास्थ्य विभाग की मानें तो प्रदेश के सभी कोविड अस्पतालों में 715 वेंटिलेटर्स की सेवा ली जा रही है. मंगलवार को मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रधानमंत्री ने कोरोना टेस्ट तेजी से बढ़ाए जाने की बात कही, खासकर बंगाल में इसमें तेजी लाने की जरूरत पर बल दिया जहां कोरोना की पॉजिटिव रेट ज्यादा है. बंगाल में अभी 61 टेस्टिंग लैब हैं जो जांच का काम कर रही हैं.

बंगाल में अब तक 11 लाख 59 हजार कोरोना सैंपल की जांच की गई है. मंगलवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 27015 टेस्ट किए गए. एक दिन में टेस्ट का यह सबसे बड़ा रिकॉर्ड है. प्रदेश की राजधानी कोलकाता कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है जहां पिछले 24 घंटे में 18 मौत दर्ज की गई है. कोलकाता में कोरोना के कुल 29185 मामले सामने आए हैं जिनमें 6615 एक्टिव केस हैं.

ADVERTISEMENT