West Bengal : लॉकडाउन के बीच कोलकाता में हुई बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के विधि विभाग की प्रवेश परीक्षा


बंगाल में गुरुवार को संपूर्ण लॉकडाउन के बीच कोलकाता में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के विधि विभाग की प्रवेश परीक्षा हुई। उस दिन यात्री वाहन नहीं चलने की वजह से परीक्षा केंद्र में पहुंचने में परीक्षार्थियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। गौर करने वाली बात यह है कि कोलकाता में यह परीक्षा ऐसे समय हुई है, जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नीट व जेईई को स्थगित करने की मांग पर मुखर हैं।

बंगाल में संपूर्ण लॉक डाउन होने के बावजूद गुरुवार को परीक्षा को स्थगित नहीं किया गया। परीक्षार्थियों को उम्मीद थी कि नई तारीख का एलान किया जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ बहुत से लोग बहुत ज्यादा किराया देकर किसी तरह परीक्षा केंद्र में पहुंचे, वहीं कुछ लोग परीक्षा देने नहीं आ पाए।

दुर्गापुर की रहने वाली वृष्टि भंडारी उन्हीं में से एक थी। वृष्टि भंडारी कोलकाता के जॉर्ज कॉलेज से मास कम्युनिकेशन में स्नातकोत्तर की पढ़ाई कर रही है। उन्होंने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से एमए के लिए आवेदन किया था लेकिन इतनी दूर से परीक्षा देने नहीं आ पाई। उन्होंने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय प्रबंधन को ईमेल करके बताया भी था कि लॉकडाउन के कारण यात्री वाहन नहीं चलेंगे इसलिए वह परीक्षा देने नहीं आ पाएंगी।

इस ईमेल का उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। वृष्टि ने कहा कि बनारस हिंदू विश्वविद्यालय का यह रवैया बेहद गैर जिम्मेदाराना है। संपूर्ण लॉकडाउन के दिन परीक्षा कराने का कोई तुक नहीं था। विवि प्रबंधन को नई तारीख का ऐलान करना चाहिए था। बहुत से परीक्षार्थियों ने कहा कि परीक्षा केंद्र में पहुंचने में उन्हें भारी समस्या का सामना करना पड़ा। इस कारण वे ठीक से परीक्षा भी नहीं दे पाए। 

ADVERTISEMENT