बिहार विधानसभा चुनाव से पहले लालू यादव आ सकते हैं बाहर, तेजस्‍वी के संकेत से कार्यकर्ताओं में उत्‍साह


बिहार के राजनीतिक गलियारे में राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) को राहत देने वाली खबर आ रही है। चारा घोटाले में सजायाफ्ता राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बाहर आने की संभावना बढ़ गई है। माना जा रहा है कि वह विधानसभा चुनाव से पहले अक्टूबर तक जेल से बाहर निकल सकते हैं। ऐसा संकेत नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने गुरुवार को राजद की एक बैठक के दौरान दिए।

चुनाव की तैयारियों के लिए बुलाई गई बैठक के दौरान तेजस्वी ने अपने नेताओं को आश्वस्त किया कि राजद प्रमुख जेल से निकलने वाले हैं। जमानत के लिए लालू पहले से ही प्रयासरत हैं। रांची हाईकोर्ट में लालू यादव की याचिका पर सुनवाई भी की जा रही है। हालांकि अभी तक उन्हें अदालत से राहत नहीं मिल सकी है। वह जिस मामले में जेल में बंद हैं, उसमें अक्टूबर तक आधी सजा की अवधि पूरी हो जाएगी। जमानत का यह मजबूत आधार बन सकता है। 

बता दें कि लालू अपने बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी के समय पैरोल पर छूट कर आए थे। बेटे की शादी के बाद निर्धारित अवधि को वे पुन: लौट गए। उसके बाद से वे रिम्‍स में लगातार इलाज करा रहे हैं। हालांकि इन दिनों कोरोना संकट को लेकर वे थोड़ा सहमे रहते हैं। उन्‍हें लेकर उनके परिवार वाले व समर्थक भी चिंतित हैं। हालांकि डॉक्‍टरों ने कहा है कि चिंता की कोई बात नहीं है। वे पूरी तरह ठीक हैं और उनका इलाज चल रहा है।  

गौरतलब है कि राजद सुप्रीमो लालू यादव चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता हैं और इन दिनों रांची स्थित रिम्‍स में अपना इलाज करा रहे हैें। वे कई बीमारियों से ग्रस्‍त भी हैं। बीपी, शूगर समेत अन्‍य बीमारियों का उपचार चल रहा है। उनकी ओर से जमानत के लिए कोर्ट में दायर की गई याचिका पर टाइम टू टाइम सुनवाई हो रही है, लेकिन जमानत नहीं मिल पाई है।  


ADVERTISEMENT