विकास दुबे के आर्थिक साम्राज्य पर चोट की तैयारी, करीबियों पर होगा मनी लॉन्ड्रिंग का केस


एनकाउंटर के बाद गैंगस्टर विकास दुबे के परिवार और सहयोगियों पर शिकंजा कसता जा रहा है. सरकार विकास दुबे के आर्थिक साम्राज्य की कुंडली खंगालने में जुटी हुई है. विकास दुबे के परिवार और सहयोगियों पर मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज होगा.

विकास दुबे की काली कमाई की जांच की जिम्मेदारी शनिवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) को सौंप दी गई थी. ईडी विकास दुबे और उसके करीबी जय वाजपेयी की अवैध चल-अचल संपत्तियों, आर्थिक अपराध की कुंडली खंगालने जा रही है. जानकारी के मुताबिक ED इस बात की जांच करेगी कि विकास दुबे ने जय वाजपेयी के साथ मिलकर देश-विदेश में कहां-कहां और कितनी अवैध संपत्तियां बनाई हैं.

सूत्रों के मुताबिक, विकास दुबे और जय वाजपेयी के पास कानपुर के साथ-साथ उत्तराखंड, मुंबई, नोएडा में करीब दो दर्जन से ज्यादा प्लॉट और मकान हैं. जय वाजपेयी ने दुबई और बैंकॉक में करीब 25 करोड़ के दो आशियाने खरीद रखे हैं. माना जा रहा है कि जय वाजपेयी कानपुर के एक बड़े उद्योगपति और विकास दुबे के लिए प्रॉपर्टी डीलिंग और मनी लॉन्ड्रिंग दोनों का काम करता था.

कानपुर में विकास दुबे के अपराध और पुलिस गठजोड़ की जांच के लिए बनाई गई एसआईटी भी अवैध रूप से जुटाई गई संपत्ति को लेकर अपनी रिपोर्ट देगी.

बता दें कि ईडी ने विकास दुबे की संपत्तियों की जांच शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि अपने फाइनेंसर जय वाजपेयी के जरिए विकास दुबे ने अपनी काली कमाई का हिस्सा दुबई और थाईलैंड में इन्वेस्ट किया है. विकास दुबे ने नोटबंदी के पहले करीब 6.30 करोड़ रुपये की नगदी को विकास दुबे ने 2% सूद पर चलाया था.

ADVERTISEMENT