दिल्ली में हर चौथा आदमी कोरोना की चपेट में! सीरो सर्वे के नतीजे डराने वाले


दिल्ली में कोरोना वायरस का संकट अब लगभग काबू में आता हुआ दिख रहा है. दिल्ली ऐसा राज्य है जहां पर सबसे अधिक रिकवरी रेट है और हर दिन एक्टिव केस की संख्या कम हो रही है. इस बीच दिल्ली सरकार ने कोरोना संकट को लेकर पूरे राज्य में सीरो सर्वे कराया है, जिसमें कई तरह की बातें सामने आई हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली के हर चौथे व्यक्ति पर कोरोना वायरस का संकट है.

सर्वे के दौरान जो स्टडी की गई है, उसके मुताबिक दिल्ली में एंटीबॉडी के मामले करीब 23.48 फीसदी हैं. यानी इतने लोग कोरोना वायरस की चपेट में है. इसके अलावा दिल्ली में जितने भी केस सामने आए हैं, उनमें अधिकतर बिना किसी लक्षण वाले थे.

स्टडी के मुताबिक, अब जब कोरोना संकट को 6 महीने पूरे हो चुके हैं तो दिल्ली में 23.48 फीसदी लोग ही इस वायरस की चपेट में आए हैं. इसका मतलब सरकार की ओर से जो फैसले लिए गए, फिर चाहे वो लॉकडाउन हो या फिर ट्रैकिंग का मसला उनका लाभ मिला है.

हालांकि, अभी भी दूसरे लोगों का इसकी चपेट में आने का खतरा है ऐसे में लोगों को सावधानी बरतनी होगी और नियमों का पालन करना होगा.

आपको बता दें कि दिल्ली में ये सर्वे 27 जून से 10 जुलाई के बीच में किया गया है. जिसमें सभी 11 जिलों से सैंपल लिए गए हैं, इनमें लोगों का ब्लडसैंपल लिया गया, उनके सीरा को टेस्ट किया गया. सभी टेस्ट ICMR के द्वारा जारी गाइडलाइन्स के तहत ही हुए हैं. इस दौरान करीब 22 हजार सैंपल टेस्ट किए गए.

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों दिल्ली में कोरोना के मामलों में कमी आई है, बीते दिन काफी वक्त के बाद एक दिन में 1000 से कम मामले दर्ज किए गए. अब दिल्ली में सिर्फ 15 हजार के करीब एक्टिव केस हैं, जबकि 3600 से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. दिल्ली में अबतक 1 लाख से अधिक लोग ठीक हो चुके हैं.

ADVERTISEMENT