कोरोना से बिगड़े हालात, भारत में शुरू हुआ कम्युनिटी स्प्रेडः इंडियन मेडिकल एसोसिएशन


हिंदुस्तान में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. देश में रोजाना 34 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मरीज सामने आ रहे हैं. अब तक भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 10 लाख 38 हजार 715 से ज्यादा हो चुकी है. इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) का कहना है कि भारत में कोरोना का कम्युनिटी स्प्रेड शुरू हो गया है और हालात खराब हो गए हैं.

आईएमए हॉस्पिटल बोर्ड ऑफ इंडिया के चेयरपर्सन डॉ. वी. के. मोंगा ने कहा कि देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है, जो बेहद खतरनाक स्थिति है. समाचार एजेंसी एएनआई ने डॉ. मोंगा के हवाले से कहा कि भारत में हर दिन 30 हजार से ज्यादा कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं. यह वास्तव में देश के लिए बहुत खराब स्थिति है. अब यह ग्रामीण इलाकों में फैल रहा है. यह बुरा संकेत है. यह कम्युनिटी स्प्रेड दिख रहा है.

डॉ. मोंगा का यह बयान बेहद अहम है, क्योंकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय लगातार कह रहा है कि अब तक भारत में कोरोना वायरस का कम्युनिटी स्प्रेड शुरू नहीं हुआ है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के इस दावे को कई हेल्थ एक्सपर्ट चैलेंज भी कर चुके हैं. इसके साथ ही कोरोना वायरस के मरीजों के मामले में भारत दुनिया में तीसरे स्थान पर पहुंच चुका है.

अमेरिका और ब्राजील के बाद कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मरीज भारत में हैं. शनिवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि भारत में अब तक 10 लाख 38 हजार 716 लोग कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके हैं, जिनमें से 26 हजार 273 लोग दम तोड़ चुके हैं. इनमें से 6 लाख 53 हजार 751 लोग इलाज से ठीक हो चुके हैं, जिनको अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है.

डॉ. मोंगा ने कहा कि अब कोरोना वायरस गांवों और कस्बों में फैल रहा है, जिसके चलते हालात को नियंत्रित करना बेहद मुश्किल हो गया है. उन्होंने कहा कि दिल्ली में तो हमने इसको कंट्रोल कर लिया, लेकिन महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, गोवा और मध्य प्रदेश के दूरवर्ती इलाकों का क्या होगा?

डॉ. मोंगा ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस ऐसी बीमारी है, जो काफी तेजी से फैल रही है. इससे निपटने के लिए राज्य सरकारों को पूरी सावधानी बरतनी चाहिए और केंद्र सरकार से मदद लेनी चाहिए.

ADVERTISEMENT