424 करोड़ के बैंक फ्रॉड मामले में सीबीआई ने दिल्ली और बुलंदशहर में की छापेमारी


केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने गुरुवार को दिल्ली और उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में छापेमारी की. यह छापेमारी 424.07 करोड़ रुपये के बैंक फ्रॉड मामले को लेकर की गई है. आईडीबीआई के नेतृत्व वाले 7 बैंकों के कंसोर्टियम ने इस मामले में शिकायत दर्ज कराई है. छापेमारी के दौरान सीबीआई के हाथ कई अहम दस्तावेज लगे हैं.

सीबीआई ने बुलंदशहर की संतोष ओवरसीज लिमिटेड कंपनी, इसके डायरेक्टर सुनील मित्तल समेत अन्य के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की है. इस मामले में सीबीआई बैंक अधिकारियों की भूमिका की भी जांच कर रही है.

इस एफआईआर के मुताबिक संतोष ओवरसीज लिमिटेड कंपनी ने फेक पर्चेज ऑर्डर के आधार पर बैंक से पैकिंग क्रेडिट का फायदा लिया. सीबीआई ने कहा, 'संतोष ओवरसीज लिमिटेड कंपनी पर नॉन-कंसोर्टियम बैंकों के साथ करेंट अकाउंट बनाए रखने और कंसोर्टियम बैंकों की जानकारी के बिना इन अकाउंट के जरिए लेन-देने करने का भी आरोप है.'

सीबीआई का दावा है कि संतोष ओवरसीज लिमिटेड ने उन कंपनियों के साथ काफी लेन-देन किया है, जिनके पास टैक्स आइडेंटिफिकेशन नंबर नहीं था.

सूत्रों का कहना है कि संतोष ओवरसीज लिमिटेड के डायरेक्टर सुनील मित्तल ने दूसरे आरोपियों के साथ मिलकर फ्रॉड किया. सूत्रों के मुताबिक सीबीआई ने छापेमारी के दौरान मामले से जुड़े कई दस्तावेज बरामद किए हैं. सीबीआई इन दस्तावेजों की जांच कर रही है.

ADVERTISEMENT