जादू-टोने के शक में काटा चाची का गला, कटा सिर लेकर थाने पहुंच गया युवक


ओडिशा के आदिवासी बहुल जिले मयूरभंज में एक बार फिर अंधविश्वास ने एक महिला की जान ले ली. एक दिल दहलाने वाली घटना में एक युवक ने अपनी चाची का गला जादू-टोने के शक में काट दिया और कटा सिर लेकर पुलिस स्टेशन पहुंच गया.

दर्दनाक हत्या का यह मामला नौशी गांव का है. जिस थाने में युवक महिला का कटा हुआ सिर लेकर पहुंचा वह खूंटा पुलिस स्टेशन है. आरोपी की पहचान 28 वर्षीय बुधिराम सिंह के तौर पर हुई है.

मृतका की पहचान देमफार सिंह उर्फ चंपा सिंह के तौर पर हुई है. मृत महिला भी आरोपी के गांव में ही रहती थी. आरोपी बुधिराम की चार वर्षीय बेटी की एक रहस्यमय बीमारी के चलते मौत हो गई थी. बुधिराम को शक था कि चंपा ने जादू-टोना किया जिसके चलते उसकी बेटी खत्म हो गई.

बदला लेने के लिए काटा सिर

चंपा से बदला लेने के लिए शख्स ने एक धारदार हथियार लेकर उसका गला काट दिया, जिसके चलते उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई. गला काटने के बाद शख्स पुलिस स्टेशन पहुंचा और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया.

गमछे में बांधा कटा सिर, थाने पहुंचा शख्स

आरोपी गमछे में महिला का सिर लेकर थाने पहुंचा था, साथ में हत्या में इस्तेमाल किए गए हथियार को उसने पुलिस को सौंप दिया. पुलिस ने शख्स को उस वक्त गिरफ्तार कर लिया जब वह कटा हुआ सिर लेकर थाने के भीतर घुसने वाला था.

ADVERTISEMENT