सुशांत के सुसाइड की खबर नहीं बर्दाश्त कर पाईं भाभी, डिप्रेशन के बाद मौत


एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन से परिवार, फैन्स और बॉलीवुड सदमे में है. सुशांत की खुदकुशी के सदमे उनकी चचेरी भाभी बर्दाश्त नहीं कर पाईं और सोमवार को उनकी भी मौत हो गई. बताया जा रहा है कि सोमवार को देवर सुशांत के आत्महत्या की खबर मिलने के बाद बिहार के पूर्णिया जिले में स्थित पैतृक गांव में रहने वाली भाभी सुधा देवी का निधन हो गया.

सुशांत सिंह राजपूत का पैतृक गांव पुर्णिया जिले का मलडीहा है. सुशांत के आत्महत्या की खबर जैसे ही गांव में पहुंची तो उनकी चचेरी भाभी सुधा देवी को झटका लगा और वह भी डिप्रेशन का शिकार हो गईं. उन्होंने खाना-पीना छोड़ दिया. इधर, मुंबई में सुशांत का अंतिम संस्कार किया जा रहा था, उधर सुधा देवी के निधन की खबर आ गई.

सोमवार शाम को हुई मौत

परिवार के करीबियों के मुताबिक, सुधा देवी की मौत लगभग उसी वक्त हुई जब सुशांत सिंह राजपूत का अंतिम संस्कार मुंबई में हो रहा था. सुशांत की मौत के बाद अब उनकी चचेरी भाभी की भी मौत की वजह से परिवार में जैसे दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है.

मुंबई में हुआ सुशांत का अंतिम संस्कार

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत पंचतत्व में विलीन हो गए. नम आंखों से उन्हें मुंबई स्थित विले पार्ले के श्मशान घाट में अंतिम विदाई दी गई. सुशांत सिंह राजपूत के अंतिम संस्कार में श्रद्धा कपूर.,अरुण शौरी, और विवेक ओबेरॉय, समेत कई सितारे पहुंचे. उनकी करीबी दोस्त रिया चक्रवर्ती भी अंतिम संस्कार में शामिल हुईं.

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में आत्महत्या की पुष्टि!

अंतिम संस्कार के पहले दोपहर तक बिहार के पटना, पूर्णिया और सहरसा से सुशांत के पिता और परिजन मुंबई पहुंच गए थे. परिजन ये मानने के लिए तैयार ही नहीं थे कि सुशांत खुदकुशी भी कर सकते हैं, मगर पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट यही कह रही है कि सुशांत की मौत फंदे से झूलने से हुई. इस रिपोर्ट में शरीर में जहर होने या कोई और कारण का जिक्र नहीं है.

फोन रिकॉर्ड्स को खंगालना शुरू

विसरा सैम्पल को सुरक्षित कर लिया गया है, जिसे फोरेंसिक लैब भेजा जाएगा. सुशांत सिंह राजपूत की बहन ने इस बात की पुष्टि की है कि वो 6 महीनों से डिप्रेशन का इलाज करा रहे थे. इधर सुशांत की खुदकुशी की वजह तलाशने के लिए पुलिस ने सबसे पहले उनके फोन रिकॉर्ड्स को खंगालना शुरू किया है.

ADVERTISEMENT