चक्रवात अम्फान: अमित शाह ने ममता बनर्जी से की बात, बोले- केंद्र करेगा पूरी तरह मदद


कोरोना वायरस महामारी के बीच देश में एक और संकट सामने आया है. बंगाल की खाड़ी से उठ रहा चक्रवाती तूफान अम्फान अगले एक या दो दिन में ओडिशा, पश्चिम बंगाल समेत अन्य तटीय राज्यों से टकरा सकता है. केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से इसको लेकर तैयारी की जा रही हैं. इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से फोन पर बात की.

केंद्रीय गृह मंत्री और बंगाल की मुख्यमंत्री के बीच तूफान अम्फान को लेकर चर्चा हुई. इस दौरान अमित शाह की ओर से केंद्र की ओर से हर संभव मदद का भरोसा दिया गया. केंद्रीय गृह मंत्री की ओर से कहा गया कि अभी केंद्र ने NDRF को तैनात किया है, लेकिन अगर राज्य को इसके अतिरिक्त कुछ भी मदद चाहिए तो केंद्र की ओर से दी जाएगी.

बता दें कि मौसम विभाग की मानें तो 20 मई को साइक्लोन अम्फान पश्चिम बंगाल के इलाकों से टकरा सकता है. बंगाल के नॉर्थ और साउथ 24 परगना में इसको लेकर अलर्ट भी जारी किया गया है और तैयारियां की गई हैं.

पीएम मोदी ने की थी आपात बैठक

चक्रवात अम्फान के खतरे को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार शाम को गृह मंत्रालय और एनडीएमए के साथ उच्चस्तरीय बैठक की. इस दौरान सुपर साइक्लोन से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया गया. पश्चिम बंगाल और ओडिशा में हालात की गंभीरता को देखते हुए गृह सचिव ने दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों से बात की.

मौसम विभाग की मानें तो मंगलवार शाम के बाद तटीय इलाकों में इस तूफान का खतरा बढ़ जाएगा. इसी कारण तमिलनाडु और पुडुचेरी से लेकर आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, मिजोरम, मणिपुर और आस-पास के तटीय इलाकों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. समुद्री इलाकों में मछुआरों के जाने पर रोक लगाई गई है, वहीं आसपास के क्षेत्रों को पूरी तरह से खाली करवाया गया है.

ADVERTISEMENT