देश पर कोरोना का साया, पहली वर्षगांठ का जश्न नहीं मनाएगी मोदी सरकार


कोरोना संक्रमण और उसकी वजह से प्रवासी मजदूरों के पलायन की पैदा समस्या ने नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा होने का जश्न फीका कर दिया है. भारतीय जनता पार्टी ने घोषणा की है कि पार्टी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल की पहली वर्षगांठ जोर-शोर से नहीं मनाएगी.

23 मई को घोषित हुए थे नतीजे

साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई 2019 को घोषित हुए थे. चुनाव आयोग ने पिछले साल देशभर में 11 अप्रैल से 19 मई 2019 के बीच 7 चरणों में मतदान कराए थे. चुनाव के नतीजे 23 मई को आए. बीजेपी ने सत्ता में धमाकेदार वापसी करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में अकेले दम पर 303 सीटें हासिल की और पूर्ण बहुमत पाया. भाजपा के नेतृत्व वाले गठबंधन एनडीए ने कुल 353 सीटें जीतीं.

30 मई को पीएम ने ली थी शपथ

प्रधानमंत्री ने 30 मई 2019 को शाम सात बजे दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी. इस लिहाज से 30 मई 2020 को उनके कार्यकाल का एक साल पूरा हो रहा है. पहले बीजेपी अपनी उपलब्धियों का पूरा प्रचार करती थी. इसके लिए बुकलेट जारी किया जाता था और टीवी, प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया में सरकार की उपलब्धियों का प्रचार किया जाता था.

डिजिटल माध्यम से होगा प्रचार

बीजेपी ने कहा है कि कोविड संकट और प्रवासी श्रमिकों की परेशानियों के चलते पार्टी ने मोदी सरकार की पहली वर्षगांठ को नहीं मनाने का फैसला किया है. बीजेपी केवल डिजिटल माध्यमों से ही सरकार की उपलब्धियों का प्रचार करेगी.

भारत में एक लाख से ज्यादा कोरोना केस

बता दें कि पिछले 2 महीनों से भारत समेत दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप देखने को मिल रहा है. भारत में कोरोना संक्रमण की कुल संख्या 1 लाख 1 हजार 139 हो गई है. देश में इस वक्त कोरोना वायरस के 58802 एक्टिव केस हैं, जबकि 39173 हजार लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं, अबतक 3163 लोगों की मौत इलाज के दौरान हो चुकी है.