बिहार में बड़ी वारदात: BJP नेता की सरेआम हत्‍या, गोलीबारी में घायल दो अन्‍य की हालत गंभीर


बिहार में लॉकडाउन के दौरान पुलिस हर जगह अलर्ट बताई जा रही है, लेकिन इसकी पोल अपराधियों ने फिर खोल दी है। रविवार की सुबह बेगूसराय के मटिहानी स्थित कैथमा में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की इकाई भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) के वरीय नेता धीरज भारद्वाज को अपराधियों ने उनके घर के पास ही सरेआम गाेलियों से भून दिया। वारदात के दौरान दो अन्‍य लोगों को भी गोली लगी है, जिनकी हालत चिंताजनक बताई जा रही है। पुलिस ने मौके से चार कारतूस बरामद किया है, जबकि अपराधी वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए हैं।

बीजेपी नेता को घर के पास भून डाला, दो की हालत गंभीर

मिली जानकारी के अनुसार बिहार के बेगूसराय मुफस्सिल थाना क्षेत्र के कठुआ गांव में भारतीय जनता युवा मोर्चा के नेता धीरज भारद्वाज को अपराधियों ने सरेआम तब गालियों से भून डाला, जब वे अपने घर के पास एक परिचित के साथ खड़े थे। धीरज को छह गोलियां लगीं। जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। गोलीबारी में कैथमा निवासी मकेश्वर यादव के पुत्र रामजीवन कुंवर व हरदेव यादव के पुत्र बिट्टू को भी गोली लगी है जिसका इलाज निजी क्लिनिक में किया जा रहा है। एसपी अवकाश कुमार ने कहा है कि घटना के पीछे भूमि विवाद व वर्चस्व की बात सामने आई है। स्वजनों के बयान पर अपराधियों को चिन्हित कर लिया गया है जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

चुनावी विवाद में हत्‍या, बीजेवाइएम के जिलाध्‍यक्ष रहे थे मृतक

मृतक बीजेवाइएम के जिलाध्‍यक्ष रह चुके थे। घटना को चुनावी रंजिश व पूर्व विवाद से जोड़कर देखा जा रहा है। स्‍वजनों के अनुसार पहले वार्ड सदस्‍य के चुनाव में केवल चार वोटों से पराजित हुए थे। वे अगले चुनाव के लिए भी तैयारी कर रहे थे।

पुलिस की खुली पोल, कहा- कर ली अपराधियों की शिनाख्‍त

हाल के दिनों में हुई कई घटनाएं हुई हैं। जबकि, पुलिस लॉकडाउन के दौरान सड़कों पर अलर्ट मोड में रहने के दावे करती रही है। रविवार को तो बीजेपी नेता की हत्‍या कर अपराधी फरार हो गए और पुलिस अपराधियों की शिनाख्‍त के दावे कर रही है। पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है।

पांच बीघा जमीन की लीज बनी जानलेवा

अपराधियों के कब्जे में रहने वाली पांच बीघा जमीन को गोपालन के लिए लीज पर लेने के कारण ही भाजयुमो नेता की हत्या का कारण बन गया। उक्त जमीन पूर्व में अपराधियों के कब्जे में रही है, उक्त भूमि विवाद में पूर्व में जहां कैथमा के दबंग मुखिया बुच्चन सरदार की हत्या हो चुकी है। उक्त जमीन मटिहानी थाना क्षेत्र के रामदीरी निवासी एक परिवार ने हाल में खरीदी है और मृतक 70 हजार रूपये सालाना के लीज पर उक्त जमीन पर स्वरोजगार शुरू करने के प्रयास मे थे। इसी क्रम में उनकी हत्या हो गई।

भीड़ ने अस्पताल कर्मियों पर उतारा गुस्सा

सदर अस्पताल में जमा भीड़ में शामिल कुछ शरारती तत्वों ने एक्सरे विभाग के कर्मियों के साथ दुव्र्यवहार भी किया। शव को जब एक्सरे के लिए ले जाया गया तो ड्यूटी में कर्मचारी की अनुपस्थिति देख कर लोग-बाग भड़क गए और अपनी ड्यूटी समाप्त कर घर लौट रहे एक कर्मचारी के साथ मारपीट करते हुए हंगामा किया। सदर अस्पताल में मौजूद पुलिसकर्मियों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ।

ADVERTISEMENT