कोरोना पाजिटिव मरीज की पुष्टि के बाद बालकृष्णपुर मङवा गांव की सभी सीमाएं सील ,हङकंप 


--प्रशासनिक अधिकारियों ने मरीज के स्वजनों को कराया आइसोलेट 
--ट्रैवल हिस्ट्री को खंगालने में जुटे अधिकारी

 विद्यापतिनगर,संस। जिले में कोरोना का पहला पॉजीटिव मरीज प्रखंड अंतर्गत बालकृष्णपुर मङवा पंचायत में मिला है। 25 वर्षीय युवक नई दिल्ली  में रहता था, जो विगत 25 अप्रैल की रात्रि ट्रक के सहारे   अपने गांव आया था।जिसकी खबर मिलते ही क्यूं आर टीम ने घर के पास ही स्थित उत्क्रमित मध्य विघालय,मङवा बांध किनारे में बनाएं गए।क्वारिंटन सेंटर में रखा था।अगले दिन अधिकारियों व स्वास्थ्य कर्मियों ने उक्त युवक को  दलसिंहसराय अनुमंडलीय अस्पताल परिसर स्थित एएनएम प्रशिक्षण केंद्र सह छात्रावास में बने आइसोलेशन केंद्र में भर्ती कराया था। इस संबंध में एसडीओ विष्णुदेव मंडल ने बताया कि वह दिल्ली के एक रेक्सीन की दुकान में काम करता था। लॉकडाउन की वजह से वह ट्रक के माध्यम से 26 अप्रैल को घर के पास बने पंचायत स्तरीय कोरेंटाइन सेंटर में रखा गया था। जहां से उसे अगले दिन ही आइसोलेशन में लाया गया था। युवक के ट्रैवल हिस्ट्री को खंगाला जा रहा है। उसके घर के तीन किलोमीटर के एरिया को सैनेटाइज करते हुए सील करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। वहीं परिवार के सदस्यों को भी चिकित्सीय जांच के लिए भेजा गया है।जबकि युवक के संपर्क में आएं लोगों को चिन्हित किया जा रहा है।

गांव की सीमाएं की गयी सील 

 युवक के कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि होते ही जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी करते हुए हरकत में आ गयी है। अधिकारियों का दल, स्वास्थ्य विभाग की टीम व पुलिस कर्मियों द्वारा कंटेंनमेंट एरिया की सीमाएं सील कर दिया है ।माईकिंग के जरिए लोगों से प्रशासनिक अधिकारी अपने अपने घरों में ही रहने की अपील कर रहे हैं।लोगों की आवश्यकता के मद्देनजर कई प्रकार की सामग्री प्रशासनिक स्तर से पहुंचायें जानें की बात कहीं जा रही है ।इसके अलावा कई प्रकार के दिशा-निर्देश ज़ारी किए गए हैं ।एसडीओ ने बताया कि पूरी एरिया में पर्याप्त मात्रा में पुलिस पदाधिकारियों की तैनाती की गई है। 

ADVERTISEMENT