कोरोना संकट: पीएम मोदी ने खिलाड़ियों से क्या कहा, खुद सचिन ने साझा किया


मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने शुक्रवार को कहा कि 14 अप्रैल के बाद का समय कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में काफी अहम होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खिलाड़ियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस में यह बात कही. सचिन उन 40 खिलाड़ियों में से थे, जिन्होंने देश की मौजूदा स्थिति पर प्रधानमंत्री मोदी के एक घंटे के वीडियो कॉल में भाग लिया.

भारत में अब तक 2500 से अधिक कोरोना पॉजिटिव मामले हैं. 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. सचिन ने एक बयान में कहा, ‘उन्होंने (पीएम मोदी) ने मेरी इस धारणा को पुख्ता किया कि हम 14 अप्रैल के बाद भी निश्चिंत होकर बैठ नहीं सकते. उसके बाद का समय काफी अहम होगा.’

सभी की तरह लॉकडाउन के दौरान सचिन भी सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं. उन्होंने बताया कि अब वह किसी से हाथ मिलाने की बजाय हाथ जोड़कर नमस्ते करते हैं. उन्होंने कहा, ‘मैंने यह भी कहा कि मैं जहां तक संभव हो, इसी तरीके से अभिवादन करता रहूंगा. महामारी से उबरने के बाद भी.’

मोदी ने यह भी कहा कि इस समय बुजुर्गों का खास ध्यान रखने की जरूरत है. उन्होंने कहा, ‘यह समय बुजुर्गों के साथ बिताना चाहिए. उनके अनुभव और उनकी कहानियां सुननी चाहिए.’ उन्होंने कहा, ‘हमने यह भी बात की कि इस समय शारीरिक के साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी ध्यान देना होगा.'