तेजप्रताप ने मां के साथ दोनों हाथों से जलाया लालटेन, राबड़ी बोलींं-अब लालूजी को रिहा कीजिए


रविवार की रात नौ बजे कोरोना (Corona) से लड़ाई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील का समर्थन पर राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव और राबड़ी देवी ने खास अंदाज में किया।  तेजप्रताप और राबड़ी दोनों ने ही रविवार रात 9 बजे अपने आवास में लालटेन जलाकर अलग तरीके से प्रधानमंत्री की अपील का साथ दिया।

राबड़ी देवी ने कहा कि उनका परिवार और पार्टी दोनों ही केंद्र सरकार व प्रधानमंत्री नेरेंद्र मोदी के हर फैसले के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि यही कारण है कि वे घरों में रहकर पीएम के आदेश का पालन कर रहे हैं। इस दौरान कोरोना को एक खतरनाक बीमारी बताते हुए राबड़ी देवी ने सभी लोगों से अपील की कि वे घर में ही सुरक्षित रहें।

राबड़ी बोली- लालू प्रसाद को जेल से छोड़ देना चाहिए

राबड़ी देवी ने कहा कि जब कोरोना के चलते अन्य राज्यों में कैदियों को छोड़ा जा रहा है तो झारखंड सरकार को भी छोड़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके लिए राबड़ी सीएम हेमंत सोरेन से बात करेंगी। उन्होंने कहा कि वह हेमंत से आग्रह करेंगी कि सबको छोड़ा जा रहा है तो सिर्फ लालू जी को क्यों बंद रखा जा रहा है।

राबड़ी ने कहा कि लालू  कोरोना से डरे नहीं हैं। उनकी उम्र अधिक है। कई बीमारी है। ऐसे में उन्हें छोड़ देना चाहिए।

तेजप्रताप ने कहा-ई लालटेन में बहुत पावर है

तेजप्रताप यादव ने अपने अंदाज में कहा कि ई लालटेन में बहुत पावर है, ये कोरोना को भगाएगा। तेजप्रताप ने भी अपनी मां की बात को दोहराते हुए कहा कि वे हर फैसले में प्रधानमंत्री के साथ खड़े हैं। इस दौरान तेजप्रताप ने एक ट्ववीट भी किया। उन्होंने लिखा कि यूं ही कट जाएगा सफर साथ चलने से, मंजिल आएगी नजर साथ चलने से... हम हर उस शख्स के साथ खड़े हैं जो इस भयावह महामारी की लड़ाई में अपना योगदान दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री के दीए जलाने की इस अपील के दौरान जहां एक ओर लोगों में कोरोना के खिलाफ लड़ाई को लेकर सत्तापक्ष साथ दिखा तो वहीं इस मुहिम में  विपक्ष भी साथ दिखा। एक तरफ लालू यादव के परिवार ने लालटेन जलाया तो वहीं सीएम नीतीश कुमार और रामविलास पासवान ने भी अपने पूरे परिवार के साथ दीपक जलाए।

नीतीश ने सीएम आवास पर मोमबत्ती जलाए। इस दौरान सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि पूरे देश के लोगों की एकता से हम जल्द ही इस संक्रमण से मुक्ति पा लेंगे।