Lockdown Marriage: पटना में दूल्‍हे के घर दुल्‍हन ने लिए सात फेरे, शिमला में ऑनलाइन था परिवार


लॉकडाउन जहां पूरा देश थमा हुआ है, वहीं पटना के बंदर बगीचा स्थित एक अपार्टमेंट में अनोखी शादी हुई। दूल्‍हे के घर में शादी और दुल्‍हन का परिवार ऑनलाइन। शादी में न बैंड-बाजा, न तामझाम, न रिश्तेदारों का हुजूम और न ही भोज का आयोजन। पुजारी के साथ केवल वर पक्ष के पांच-छह लोग शामिल हुए। शनिवार को हुई इस शादी में मास्क लगाए दूल्हा-दुल्हन ने एक दूसरे को वरमाला पहनाकर हाथ थामा।

पटना में फंस गई थी आभूषण खरीदने आई दुल्‍हन

रिटायर्ड आइपीएस आनंद कुमार सिंह के भतीजे अभिनव अंकित अधिवक्ता हैं। अंकित के पिता दीपक सिंह और मां प्रमिला सहित पूरा परिवार कौटल्या स्टेट अपार्टमेंट में रहता है। अंकित की शादी शिमला की रहने वाली ज्योति से पांच मई को पटना क्लब में होने वाली थी। ज्‍योति शादी के आभूषण पसंद करने के लिए मार्च में पटना आ गई थी। इसी बीच लॉकडाउन हो गया और वह वापस शिमला नहीं जा सकी।

लॉकडाउन बढ़ते जाने के कारण लेना पड़ा फैसला

आनंद कुमार ने बताया कि उम्मीद थी कि अप्रैल में लॉकडाउन खत्म हो जाएगा तो ज्योति शिमला चली जाएगी, फिर लड़की पक्ष अप्रैल के अंतिम सप्ताह पटना आएगा। लेकिन लॉकडाउन का समय बढ़ गया। पांच मई तक लॉकडाउन खत्म होने की उम्मीद भी खत्म होने लगी। ऐसे में इस तरह शादी करने का फैसला करना पड़ा।

शादी में सभी लगाए थे मास्‍क, लाइव था दुल्हन पक्ष

दूल्‍हा पक्ष ने अपार्टमेंट में रहने वाले पंडित जी से संपर्क किया। शनिवार को शादी का दिन तय हुआ। कौशल्‍या एस्टेट के बी ब्लॉक के फ्लैट नंबर 202 में शादी की तैयारी हुई। शादी में अंकित के घर वाले शामिल हुए। दुल्‍हन पक्ष के लोग इंटरनेट के जरिए शादी को लाइव देख रहे थे। दूल्‍हे के एक रिश्‍तेदार ललन सिंह ने दुल्‍हन के पिता की भूमिका निभाई। दूल्‍हा-दुल्‍हन सहित शादी में शामिल सभी लोग मास्क लगाए हुए थे।

मां बोलीं: लॉकडाउन के बाद होगी शानदार पार्टी

दूल्हे की मां प्रमिला सिंह ने कहा कि लॉकडाउन के कारण शादी में रिश्‍तेदार व दोस्‍त शामिल नहीं हो सके। लॉकडाउन के बाद उन्‍हें शानदार पार्टी दी जाएगी।