About Me

header ads

West Bengal: नगर निकाय चुनावों में जीत सुनिश्चित करने को घर-घर जाएंगे भाजपा सांसद


बंगाल में इसी वर्ष होने वाले नगर निकाय चुनावों लेकर भाजपा तैयारियों में जुट गई है. लोकसभा चुनाव की तरह नगर पालिका एवं नगर निगम चुनावों में भी बेहतर परिणाम हासिल करने के लिए पार्टी जनसंपर्क पर अधिक जोर रही है. इसके लिए भाजपा ने अपने सांसदों एवं विधायकों को घर-घर जाकर जनता से संपर्क मजबूत करने का दायित्व दिया है. राज्य की तीन विधानसभा सीटों के उपचुनाव परिणाम के बाद भाजपा ने राज्य में तत्परता बढ़ा दी. पार्टी ने जनसंपर्क बढ़ाने के लिए अपने सभी 18 सांसदों एवं 10 विधायकों को घर-घर जाकर मतदाताओं से बात कर उनकी समस्याएं सुनने को कहा है.

पार्टी सूत्रों के अनुसार, सांसद अपने क्षेत्र में पार्टी के स्थानीय नेताओं से संपर्क कर प्रचार की रणनीति भी तय करेंगे. नगर पालिका एवं नगर निगम चुनावों के संचालन की जिम्मेवारी पार्टी ने मुकुल राय को दी है. उन्हें 57 सदस्यीय चुनाव प्रबंधन कमेटी का संयोजक बनाया गया है.  प्रदेश भाजपा महासचिव संजय सिंह को सह-संयोजक बनाया गया है. लोकसभा चुनाव प्रबंधन कमेटी में भी भाजपा ने मुकुल राय को संयोजक बनाया था. इस तरह राज्य में नगर-निकाय चुनावों के लिए भी पार्टी ने मुकुल राय पर भरोसा जताया है.

पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा को बंगाल में रिकार्ड परिणाम हासिल हुआ था. इनके दो सांसद से 18 सांसद हो गए। इससे यहां पार्टी कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ गया. नागरिक संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ राज्य में शुरू हुए प्रदर्शन ने भाजपा को थोड़ा असहज कर दिया था, लेकिन दल ने इस कानून के समर्थन में व्यापक प्रचार शुरू कर स्थिति में सुधार लाई है. अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले पार्टी नगर-निकाय चुनावों में बेहतर परिणाम हासिल करना चाहती है. इसके लिए जनसंपर्क पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है.

गौरतलब है कि कोलकाता नगर निगम के चुनाव के लिए उम्मीदवारी तय करने को लेकर प्रदेश भाजपा में मतभेद पैदा हो गया है. सूत्रों के अनुसार, पार्टी का एक वर्ग निगम चुनाव में टॉलीवुड के अभिनेता-अभिनेत्रियों तथा अन्य नए चेहरों को उम्मीदवार बनाना चाहता हैं जबकि पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य मुकुल राय पार्टी के अनुभवी एवं जाने-पहचाने चेहरों को उम्मीदवारी देने के पक्ष में हैं. इस मुद्दे पर पार्टी में मतभेद उत्पन्न हुआ है.