About Me

header ads

क्या 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम में बुलाए जाएंगे विपक्षी नेता, सरकार ने दिया ये जवाब


अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ सोमवार को दो दिवसीय दौरे पर भारत आ रहे हैं. यहां उनके भव्य स्वागत के लिए तैयारियां चरम पर हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पहली बार भारत दौरे पर आ रहे हैं. सोमवार दोपहर को गुजरात के अहमदाबाद में उनका एयरफोर्स वन विमान लैंड करेगा, जहां से वो मोटेरा स्टेडियम जाएंगे और 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम को संबोधित करेंगे.

अहमदाबाद एयरपोर्ट से लेकर मोटेरा स्टेडियम तक सड़क के किनारे लोग खडे़ होकर डोनाल्ड ट्रंप का स्वागत करेंगे. डोनाल्ड ट्रंप के इस कार्यक्रम में विपक्षी नेताओं को बुलाने पर अभी तस्वीर साफ नहीं हो पाई है. जब विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार से सवाल किया गया कि जिस तरह अमेरिका के ह्यूसटन में 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में वहां के विपक्षी नेताओं को बुलाया गया था, तो क्या उसी तरह 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम में यहां भी विपक्षी नेताओं को बुलाया जाएगा? इस पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि इसका फैसला 'डोनाल्ड ट्रंप नागरिक अभिनंदन समिति' को लेना है.

यह संस्था कर रही है 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम का आयोजन

गुरुवार को वीकली मीडिया ब्रीफिंग के दौरान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि 'नमस्ते ट्रंप' कार्यक्रम का आयोजन डोनाल्ड ट्रंप नागरिक अभिनंदन समिति कर रही है. लिहाजा किसी को बुलाने या न बुलाने का फैसला उसी को लेना है. जब विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता से पूछा गया कि क्या भारत दौरे के समय अमेरिका की फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप स्कूल जाएंगी और बच्चों से मिलेंगी, तो उन्होंने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया ट्रंप के दौरे की योजना अमेरिकी दूतावास ने बनाई है.

8 महीनों में पांचवीं बार मिलेंगे ट्रंप-मोदी

रवीश कुमार ने कहा कि अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच वैश्विक और क्षेत्रीय मसलों पर चर्चा होगी. उन्होंने बताया कि यह पहली बार नहीं हैं, जब ट्रंप और मोदी मिल रहे हैं और बातचीत करने वाले हैं. इससे पहले भी दोनों नेताओं के बीच कई बार बातचीत हो चुकी है. यह पिछले 8 महीने में पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रंप की पांचवीं मुलाकात होगी.