शाहीन बाग फायरिंगः कपिल के पिता बोले- पुलिस का दावा गलत, हम AAP के सदस्य नहीं


दिल्ली के शाहीन बाग में फायरिंग करने वाले कपिल गुर्जर के पिता और भाई ने आम आदमी पार्टी (AAP) का सदस्य होने की बात से इनकार किया है. कपिल गुर्जर के पिता और भाई का कहना है कि उन्होंने कोई आम आदमी पार्टी जॉइन नहीं की थी. मीडिया में जो खबर पुलिस के हवाले से चल रही है वो गलत है. कोई अगर आप के पास आएगा तो आप उसका सम्मान करेंगे. ऐसे ही हमारे साथ हुआ. आम आदमी पार्टी के नेता आए और हमने उनका सम्मान किया. लेकिन कोई पार्टी जॉइन नहीं की.

असल में, दिल्ली पुलिस ने दावा किया था कि शाहीन बाग में फायरिंग करने वाला शख्स कपिल गुर्जर आम आदमी पार्टी से जुड़ा है. कपिल के पिता गजे सिंह भी आम आदमी पार्टी से जुड़े हैं. पुलिस का दावा था कि कपिल ने बताया है कि उसने और उसके पिता ने 2019 के शुरुआती महीने में आम आदमी पार्टी की सदस्यता ली थी. लेकिन पुलिस के दावे को कपिल के पिता और भाई ने खारिज कर दिया.

कपिल के चाचा फ़तेह सिंह ने बताया, "मुझे नहीं पता कि ये तस्वीरें कहां से आ रही हैं. मेरे भतीजे कपिल का किसी भी राजनीतिक दल से कोई संबंध नहीं है और न ही परिवार का कोई अन्य सदस्य किसी पार्टी से जुड़ा हुआ है. मेरे भाई गजे सिंह (कपिल के पिता) ने 2008 में बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर नगर निगम का चुनाव लड़े लेकिन हार गए. उसके बाद हमारे परिवार के किसी भी सदस्य का किसी भी राजनीतिक दल से कोई संबंध नहीं था.

फतेह सिंह ने ये भी दावा किया कि कपिल का AAP या किसी अन्य राजनीतिक पार्टी से जुड़ा कोई दोस्त नहीं है.

बहरहाल, कपिल गुर्जर के इस बयान को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की टीम अदालत में भी बता चुकी है. कपिल गुर्जर के मोबाइल फोन से यह खुलासा हुआ है. क्राइम ब्रांच को कपिल गुर्जर के मोबाइल में कुछ फोटो मिले हैं. इन फोटो में आरोपी कपिल गुर्जर और उसके पिता गजे सिंह आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी, सांसद संजय सिंह के साथ नजर आ रहे हैं.

कपिल के पिता गजे सिंह दिल्ली में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के साथ तस्वीरों में नजर आ रहे हैं. करीब एक साल पहले 2019 की इन फोटो में कपिल गुर्जर आम आदमी पार्टी की सदस्यता लेते नजर आया है. उस वक्त कपिल और उसके पिता के साथ कपिल के करीब एक दर्जन से ज्यादा साथियों ने भी आम आदमी पार्टी की सदस्यता ली थी.

क्राइम ब्रांच के डीसीपी राजेश देव ने कहा, अपनी शुरुआती जांच में हमें कपिल के फोन से कुछ तस्वीरें मिलीं जो बताती हैं वह (कपिल) और उसेक पिता एक साल पहले आम आदमी पार्टी में शामिल हुए थे. उसने इसका पहले ही खुलासा कर दिया है. हमने उसे 2 दिन के लिए रिमांड पर लिया है.