मोदी को ओवैसी की चुनौती, कहा- NRC पर बहस करेंगे तो नहीं दे पाएंगे जवाब


AIMIM असदुद्दीन ओवैसी ने नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर (NPR) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (NRC) के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती दी है. उन्होंने मंगलवार को कहा कि एनपीआर और एनआरसी पर प्रधानमंत्री मोदी झूठ बोल रहे हैं. मैं उन्हें चुनौती देता हूं. आप राहुल गांधी या ममता बनर्जी से बहस मत करिए. आइए दो दाढ़ी वाले साथ बैठते हैं और बहस करते हैं. आप (पीएम मोदी) एक भी सवाल का जवाब नहीं दे पाएंगे.

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) पर अपना विरोध जताते हुए ओवैसी ने कहा, भारत छोड़ो का नारा काफी पहले दिया गया था. आज हमें छोड़ो बीजेपी, छोड़ो मोदी, छोड़ो अमित शाह कहना होगा. ओवैसी ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून भारत के संसदीय लोकतंत्र में काला धब्बा है. हैदराबाद के सांसद ओवैसी ने कहा कि हम संविधान बचाने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं. एनआरसी और एनपीआर एक ही बात है. मैं यह आप लोगों को डराने के लिए नहीं कह रहा हूं, बल्कि यह वास्तविकता है. यह एनपीआर 2010 के समान नहीं है. जब भी एनपीआर होगा तो एनआरसी होगा.

इससे पहले असदुद्दीन ओवैसी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को चुनौती दी थी. नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ मदुरै में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा कि अमित शाह सबको बहस की चुनौती दे रहे हैं, लेकिन क्या वह मेरे साथ चर्चा के लिए तैयार हैं. ओवैसी ने तमिलनाडु में सत्तारुढ़ AIADMK से भी नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ आवाज उठाने की अपील की.

अखिल भारतीय मजलिस पार्टी की ओर से नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ मदुरै में बैठक बुलाई गई थी. इस बैठक में एआईएमआईएम पार्टी के असदुद्दीन ओवैसी के अलावा थिरुमुरुगन गांधी और वेलमुरुगन भी मौजूद थे.