Siliguri: 1 लाख 38 हजार यूएस डॉलर के साथ मां बेटा गिरफ्तार


कस्टम विभाग ने एक मां और बेटे को अमेरिकी डॉलर के साथ गिरफ्तार किया है. कस्टम के नक्सलबाड़ी डीपीओ ने गुप्त सूचना के आधार पर सोमवार को कंचनजंगा एक्सप्रेस में अभियान चलाया, इसी दौरान एक महिला के पास से 1 लाख 38 हजार अमेरिकी डॉलर बरामद किये हैं महिला अपने बेटे के साथ कोलकाता से गोवाहाटी जा रही थी. कस्टम विभाग के अधिकारी श्यामल मजूमदार के नेतृत्व में यह अभियान चलाया गया. आरोपियों के पास से 36 हजार के भारतीय नोट बरामद हुए हैं. 

बरमद यूएस डॉलर की भारतीय मुद्रा मे वैल्यू करीब एक करोड़ रुपए है. कस्टम सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार महिला लालथंग पोयम तथा उसके बेटे राहुल पोयम को गिरफ्तार कर लिया गया है. यह दोनों मिजोरम के आइजोल के रहने वाले बताये जा रहे हैं. इनके डॉलर लेकर रवाना होने की जानकारी पहले से ही कस्टम विभाग को मिल गई थी. जैसे ही अप कंचनजंगा एक्सप्रेस एनजेपी स्टेशन पर पहुंची कस्टम विभाग की टीम ने एक निर्धारित बोगी में पर धावा बोल दिया. कस्टम सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों आरोपी मा बेटे सोने तस्करी में भी शामिल रहे होंगे. हो सकता है कि कोलकाता में किसी को सोने की डिलीवरी दी गई हो और उसकी कीमत डॉलर में लेकर यह लोग वापस लौट रहे होंगे. मां-बेटे को गिरफ्तार कर कस्टम विभाग की टीम सोमवार देर रात को हाकिमपाड़ा स्थित अपने कार्यालय लेकर पहुंच गयी थी, इनसे इस मामले में पूछताछ अभी जारी है.

हाथी दांत के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

गेंडे के सींग पकड़ने गए वन विभाग के स्पेशल टास्क फोर्स ने हाथी के दांत के साथ दो तस्करों को धड़ दबोचा. बैकुण्ठपुर वन विभाग के बेलाकोवा रेंज के वन कर्मियों ने यह अभियान चलाया. पकड़े गए दोनों तस्करों में जेम दोर्जी थिम्बू भूटान का निवासी एवं रवींद्र बासूमत्री असम का निवासी है. उत्तर बंग वन विभाग के मुख्य वनपाल गोपाल प्रसाद छेत्री ने बताया कि हमलोगों के बेलाकोवा रेंज के रेंजर के पास एक खबर मिली कि गेंडे के सींग की तस्करी होने वाली है. उसी के मुताबिक ये लोग बंगाल असम सीमा पर इनलोगों को पकड़ने के लिए पहुंचे. लेकिन इनके पास से हाथी के दांत बरामद किए गए. इनके पास गेंडे के सींग बेचने के लिए आए थे। लेकिन वे लोग पकड़े नहीं गए.